चीनी टेनिस खिलाड़ी पेंग शुआई का यू-टर्न, बोली- मेरा यौन उत्पीड़न नहीं हुआ

चीन की स्टार टेनिस खिलाड़ी पेंग शुआई काफी समय से सुर्खियों में हैं। कुछ समय पहले उन्होंने ट्वीट कर देश के एक बड़े नेता पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए। इसके बाद उनके लापता होने की खबर ने पूरी दुनिया को हैरान कर दिया। पूरा टेनिस जगत उनके सर्मथन में आया और चीन में किसी भी टेनिस प्रतियोगिता के आयोजन का बहिष्कार किया गया। अब वही पेंग शुआई अपने बयान से मुकर गई हैं। उन्होंने सिंगापुर के एक अखबार से बातचीत के दौरान कहा कि मेरे साथ कभी यौन उत्पीड़न नहीं हुआ। इससे पहले उन्होंने कम्युनिस्ट पार्टी के नेता और देश के पूर्व उप प्रधानमंत्री झांग गाओली पर पर उन्होंने यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए थे। 

चीनी भाषा के एक अखबार लियान्हे जाओबाओ ने टेनिस खिलाड़ी पेंग शुआई का एक वीडियो शेयर किया है। जिसमें शुआई यह कह रही हैं कि वह बीजिंग में स्वतंत्र रूप से अपने घर में रह रही हैं। उन्होंने वीडियो में कहा, पहले में यह स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि मैंने कभी नहीं कहा कि मेरा यौन उत्पीड़न किया गया। हालांकि उनके इस बयान के बावजूद महिला टेनिस संघ की चिंताएं कम नहीं हुई हैं। संघ ने सोमवार को कहा, उनकी भलाई जबरदस्ती के बिना संवाद करने की क्षमता के बारे में चिंता है। पूर्व विंबलडन और फ्रेंच ओपन डबल्स चैंपियन की पिछले महीने सोशल मीडिया पर सेंसर की गई पोस्ट ने संयुक्त राष्ट्र, व्हाइट हाउस और साथी टेनिस खिलाड़ियों की चिंता बढ़ा दी थी। 

पेंग शुआई ने अपने एक बयान में कहा कि सोशल मीडिया पर मेरी पोस्ट का गलत अर्थ निकाला गया। उनके मुताबिक, मैंने कभी किसी के ऊपर यौन उत्पीड़न का आरोप नहीं लगाया, मैं फिर स्पष्ट करती हूं कि मेरा किसी ने यौन उत्पीड़न नहीं किया। यह पहली बार हुआ जब पेंग शुआई यौन उत्पीड़न के बयान पर खुलकर बोली हैं।