बल्लेबाजों के 'फ्लॉप शो' पर माइकल हसी की इंग्लैंड को नसीहत

एडिलेड में खेले गए एशेज सीरीज के दूसरे मैच में इंग्लैंड को 275 रनों के बड़े अंतर से हराकर ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज में 2-0 की बढ़त हासिल कर चुका है। इस मैच में न तो इंग्लैंड के बल्लेबाज चले और न ही गेंदबाज एक बार भी कंगारू टीम को ऑलआउट कर पाए। इंग्लैंड को जीत के लिए 468 रनों का लक्ष्य मिला था, जिसके जवाब में टीम पांचवें और आखिरी दिन 192 रनों पर ऑलआउट हो गई। इंग्लैंड टीम के इस प्रदर्शन पर पूर्व कंगारू बल्लेबाज माइकल हसी ने कहा है कि टीम को रोरी बर्न्स और हसीब हमीद में से किसी एक को बाहर करना चाहिए। 'क्रिकबज चैटर' में बात करते हुए हसी ने कहा, ''इंग्लैंड के ओपनर अच्छा काम नहीं कर रहे हैं, ऐसे में टीम को एक बदलाव करना चाहिए। बर्न्स एडिलेड की दूसरी पारी में अच्छा खेल रहे थे, इस वजह से उन्हें एक मौका और मिलना चाहिए।'' हमीद के बारे में बात करते हुए हसी ने कहा कि यह ओपनिंग बल्लेबाज रन नहीं बना पा रहा है, जिसकी वजह से टीम को उनकी जगह जैक क्रॉली को मौका देना चाहिए। हसी ने कहा, ''मुझे लगता है कि क्रॉली इस पोजीशन के लिए एकदम फिट हैं। वह लंबे कद के हैं और उन्होंने शेन वॉर्न से बात भी की है। वह ऑस्ट्रेलियाई कंडीशंस में खेलने के लिए एकदम फिट हैं।''

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच अब तक एशेज सीरीज के दो टेस्ट खेले जा चुके हैं और इन दोनों में ही कंगारू टीम के सलामी बल्लेबाज मार्कस हैरिस का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है। लेकिन इसके बावजूद हसी चाहते हैं कि मेलबर्न में होने वाले एशेज सीरीज के तीसरे टेस्ट में उन्हें मौका मिले। उन्होंने कहा, ''यह एक मुश्किल फैसला है, लेकिन टीम में हैरिस को शामिल करना चाहिए। आपने देखा कि एडिलेड की दूसरी पारी में उन्होंने अच्छा खेल दिखाया। वह इस समय काफी प्रैशर में हैं और निश्चित तौर पर उन्होंने टीम से इस बारे में बात की होगी। लेकिन मेलबर्न में उन्हें मौका मिलना चाहिए, क्योंकि उन्हें घरेलू कंडीशंस के बारे में अच्छी जानकारी है। जब आप जीतते हैं तो इस स्थिति में ऐसे प्लेयर को साथ में रख सकते हैं।''