IND vs NZ: रोहित शर्मा की कप्तानी में भारतीय टी20 टीम में दिखेंगे ये बदलाव

भारतीय टीम के नए टी20 कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि आने वाले समय में खिलाड़ियों का वर्कलोड मैनेजमेंट, उनमें आत्मविश्वास पैदा करना और विश्वास बनाए रखना सबसे अहम होगा। कोविड-19 के दौर में बायो बबल में खिलाड़ियों की मेंटल हेल्थ पर भी खास ध्यान रखा जाएगा। टी20 वर्ल्ड कप 2021 के बाद विराट कोहली ने क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ दी है और अब यह जिम्मेदारी रोहित शर्मा निभाएंगे। रोहित इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में अपनी लीडरशिप का लोहा मनवा चुके हैं और अपनी कप्तानी में टीम को पांच खिताब दिलाए हैं।

रोहित ने जयपुर में बुधवार को होने वाले न्यूज़ीलैंड के खिलाफ टी20 मैच से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में हेड कोच राहुल द्रविड़ के बगल में बैठकर कहा, यह इस फॉर्मेट के अहम पहलुओं में से एक है जहां खिलाड़ियों को पिच पर जाकर जोखिम लेने होते हैं। अगर यह आता है, तो आता है, अगर ऐसा नहीं होता है, तो क्या हुआ। यही वह जगह है जहां हम दोनों को एक बड़ी भूमिका निभाने की जरूरत है और जहां हर खिलाड़ी को खुद को एक्सप्रेस करने की छूट होगी।'

कप्तान में कहा, 'यह जरूरी है, खासतौर पर इस फॉर्मेट में, जहां पर आपको निडर होकर खेलने की जरूरत होती है और यह भी हो सकता है कि आप हमेशा सफल नहीं हो पाएं क्योंकि यह छोटा फॉर्मेट है और आपको हमेशा चुनौतियां मिलती हैं। दबाव हमेशा वहां पर रहता है। हम उस नजरिए पर भी ध्यान रखेंगे कि पूरा सेट अप एक बड़ा योगदान दे चाहे वह व्यक्तिगत बल्लेबाजी हो और जैसा हम बल्लेबाजी कराना चाहते हों, आप मैदान में जाओ और हमारे लिए काम करो। अगर वह ऐसा नहीं कर पाता है तो हम उनमें आत्मवश्विास पैदा करेंगे कि हमें उन पर पूरा वश्विास है, बस जाओ और टीम के लिए अपना रोल अदा करो। जितने लंबे समय तक वे अपने रोल को निभाने की कोशिश करेंगे, हम खुश हैं।'