सरकार द्वारा अनाथ बच्चों के लिए दी सुविधाएं

मऊ जनपद के जिलाधिकारी अमित सिंह बंसल द्वारा एक प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से बताया गया कि कोविड-19 के संक्रमण के कारण अनाथ हुये बच्चों को केन्द्र सरकार द्वारा घोषित की गयी पी0एम0 केयर फार चिल्ड्रेन योजना के अन्तर्गत लाभान्वित किये जाने हेतु ऐसे बच्चों का चिन्हीकरण किया जाना है। इस योजना के तहत कोविड़-19 महामारी में केवल माता या केवल पिता या माता-पिता दोनो को खोने वाले बच्चों के लिए लंबी व्यापक देखभाल और सुरक्षा प्रदान करना, जिसमें स्वास्थ्य बीमा के माध्यम से उनके स्वास्थ्य और जीवन की गुणवत्ता को सक्षम करना, शिक्षा के माध्यम के साथ आत्मनिर्भरता के लिए उन्हे सशक्त बनाना है। ऐसे सभी बच्चे जिनके माता-पिता या जीवित माता/पिता या कानूनी अभिभावक/दत्तक माता-पिता/एकल दत्तक माता-पिता की मृत्यु 11.03.2020 से 31.12.2021 के बीच कोविड-19 से हुयी हो, इस योजना के तहत लाभ का हकदार होंगे, परन्तु उनके माता-पिता दोनो या जीवित माता/पिता या कानूनी अभिभावक/दत्तक माता-पिता/एकल दत्तक माता-पिता जैसी भी स्थिति हो, की मृत्यु के दिनांक को बच्चे की आयु 18 वर्ष पूरी नही होनी चाहिए। योजना के तहत जिले के सभी चिन्हित लाभार्थियो का खाता सिर्फ डाकघर में ही खोला जायेगा। खाता खोलने के दिन बच्चे की उम्र 18 वर्ष से कम होने पर जिलाधिकारी को अभिभावक के रूप में रखते हुए बच्चे के साथ संयुक्त खाता खोला जायेगा। यदि बच्चे ने इस दौरान 18 वर्ष की आयु पूर्ण कर ली है तो खाता उनके नाम से खोला जायेगा।