CSK vs DC: धोनी के बचाव में उतरे सीएसके के कोच स्टीफन फ्लेमिंग

आईपीएल 2021 का 50वां मैच सोमवार को चेन्नई सुपर किंग्स और दिल्ली कैपिटल्स के बीच खेला गया। दुबई में हुए मैच में दिल्ली ने सीएसके पर तीन विकेट से जीत दर्ज की। इस मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान एमएस धोनी की बल्लेबाजी चर्चा का विषय रही। वह एक बार फिर बल्लेबाजी के दौरान संघर्ष करते नजर आए। माही मैदान पर उस समय बैटिंग करने आए थे जब टीम को तेज रनों की जरूरत थी। लेकिन धोनी ने इस दौरान 27 गेंदों पर 18 रन बना पाए। वह अपनी पारी में एक भी बाउंड्री नहीं लगा सके। सीएसके ने पहले बल्लेबाज पांच विकेट पर 136 रन बनाए। दिल्ली ने 2 गेंदे शेष रहते 137 रनों का लक्ष्य सात विकेट खोकर पूरा कर लिया। 

प्लेमिंग ने किया धोनी का बचाव

मैच के बाद वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान चेन्नई सुपर किंग्स के हेड कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने धोनी का बचाव करते हुए कहा, धोनी इकलौते बल्लेबाज नहीं हैं जिन्हों ने दुबई के धीमे विकेट पर संघर्ष किया। उन्होंने कहा, यह स्टोक खेलने के लिए मुश्किल दिन था, 137 का टारगेट अच्छा था, इस विकेट पर लंबे शॉट लगाना मुश्किल था। दोनों टीमों ने अपनी पारी के दौरान संघर्ष किया, कभी-कभी आप बहुत ज्यादा उम्मीद कर लेते हैं, शायद हमने मैच जीतने वाले स्कोर से 10-15 रन कम बनाए थे।  

फिलहाल यही कठिनाई है कि तीन अलग-अलग आधार पर तीन मैदानों के हालात क्या हैं, इसका आकलन करने की कोशिश में इरादे की कोई कमी नहीं थी, कुछ गलतियों के बाद हमें स्थिर होना पड़ा, दिल्ली ने आखिरी पांच ओवरों में अच्छी गेंदबाजी की उन्होंने स्मार्ट क्रिकेट खेली। 

चौथी बार धोनी नहीं लगाए पाए बाउंड्री

धोनी के आईपीएल करियर में यह चौथी बार हुआ जब वह मैच के दौरान 20 या उससे ज्यादा गेंदें खेलने बावजूद बाउंड्री नहीं लगा पाए। किसी अन्य कप्तान ने एक से अधिक बार ऐसा नहीं किया है। धोनी के यह वो चार मैच हैं जिनमें उन्होंने 20 से ज्यादा गेंदें खेलीं और बाउंड्री लगाने में नाकाम रहे।

 28 रन, 30 गेंदें, विरुद्ध आरसीबी, 2009

8 रन, 22 गेंदें, विरुद्ध केकेआर, 2016

12 रन, 21 गेंदें, विरुद्ध मुंबई इंडियंस, 2019

18 रन, 27 गेंदें, विरुद्ध दिल्ली कैपिटल्स, 2021