डीएम ने मुख्यमंत्री जन आरोग्य मेले का किया औचक निरीक्षण

गोंडा । रविवार को शासन के निर्देशन में जनपद के सभी 52 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर मुख्यमंत्री जन आरोग्य मेले का आयोजन किया गया जिसमें जनसामान्य का स्वास्थ्य परीक्षण के साथ ही स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराई गईं,वहीं मुख्यमंत्री जन आरोग्य मेले की हकीकत देखने के लिए स्वयं डीएम मार्कण्डेय शाही ने सीएमओ डा0 आरएस केसरी के साथ कई प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर औचक पहुंचकर मेले का जायजा लिया। डीएम सबसे पहले प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र हरसिंहपुर बालपुर पहंुचे। वहां पर उपस्थिति पंजिका चेक किया गया तो 31 फील्ड वर्कर्स के सापेक्ष मात्र 08 कर्मी ही केन्द्र पर उपस्थित मिले। डीएम ने सभी गैरहाजिर कर्मियों का वेतन अग्रिम आदेशों तक रोकते हुए इस लापरवाही के सम्बन्ध में शासन को रिपोर्ट भेजने के निर्देश सीएमओ को दिए।  पीएचसी   पर ईडीएल की लिस्ट भी बिल्कुल अपडेट नहीं की गई, इसके सम्बन्ध में वहां के एमओ से जवाब तलब किया गया है। पीएचसी का निरीक्षण करने बाद पीएचसी के बगल में ही बने जर्जर पंचायत भवन को देखकर डीएम ने वहीं से डीपीआरओ को फोन कर निर्देशित किया कि शाम पर पंचायत भवन परिसर की साफ-सफाई हो जाए और वे दो दिन बाद पंचायत भवन का पुनः निरीक्षण करने आएगें।

पीएचसी हरसिंह बालपुर का निरीक्षण करने के बाद डीएम कटरा बाजार अंतर्गत प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पूरे बहोरी पहुंचे। वहां पर एमओ दोपहर सवा 12 बजे तक 20 मरीज देखे गए थे। उपस्थिति चेक करने पर एमओ डा0 तौफीक अली दो दिन से बिना से किसी सूचना के अनुपस्थित मिले। माइनर ओटी मे ताला लटका हुआ मिला। डीएम को फील्ड स्टाफ के बारे में कोई जानकारी नहीं मिल सकी। डीएम ने सीएमओ को निर्देश दिए कि पीएचसी पूरे बहोरी अन्तर्गत सभी एएनएम सेंटर व उपकेन्द्रों पर तैनात कर्मियों की लिस्ट उनकी कारगुजारी के साथ उपलब्ध कराई जाय।

इसके बाद डीएम ब्लाक करनैलगंज अंतर्गत प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र चकरौत पहंुचे। वहां पर एमओ डा0 कोमल राज उपस्थित मिलीं। फील्ड कर्मियों की उपस्थिति चेक करने पर आंगनबाड़ी सुपरवाइजर कलावती, आंगनबाड़ी कार्यकत्री मीनाक्षी, राधा, वंदना सविता गैरहाजिर मिलीं। डीएम ने सभी अपुपिस्थत कर्मियों का वेतन/मानेदय रोकने के आदेश दिए हैं। वहीं परिसर मे गन्दगी मिलने पर एमओ डा0 कोमलराज का वेतन रोकने के आदेश दिए हैं।निरीक्षण के दौरान ही ग्रामीणों द्वारा डीएम से अनुरोध किया गया कि सम्पर्क मार्ग से पीएचसी तक खड़न्जा तथा पीएचसी व गंाव में विद्युतीकरण कार्य करा दें। इस पर डीएम ने वहीं से एक्सईएन विद्युत को फोन कर निर्देशित किया कि सोमवार शाम तक सर्वे कराकर विद्युतीकरण का कार्य शुरू कराएं। एडीओ पंचायत को फेन पर निर्देशित किया कि मनरेगा कन्वर्जेन्स से खड़न्जा लगवाने का प्रस्ताव तत्काल तैयार कराकर कार्य शुरू कराएं। ग्रामीणों ने यह भी शिकायत किया कि गांव का सफाईकर्मी राजेश कभी भी गांव में सफाई करने नहीं आता है। इस पर डीएम ने डीपीआरओ को सम्बन्धित सफाईकर्मी के विरूद्ध कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं।