भाजपा सरकार अंग्रेजों के जुल्मों से भी आगे निकल गई: अखिलेश यादव

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा सरकार अंग्रेजों के जुल्मों से भी आगे निकल गई है। किसानों की आवाज को कुचला जा रहा है। लखीमपुर खीरी में किसानों के साथ जो हुआ है, ऐसा किसानों के साथ कभी नहीं हुआ। उत्तर प्रदेश ऐसा राज्य है जहां हत्या के आरोप में पुलिसकर्मी फरार हैं। इस सरकार को हटाना जरूरी है। इस सरकार के हटने से ही किसानों, नौजवानो और सभी लोगों को न्याय मिलेगा। जो सरकार न्याय न दे पाए, धर्म में झगड़े लगाती हो, उसे हर हालत में हटाना होगा।

 उन्होने कहा दिल्ली की सरकार को हटाने के लिए यूपी की सरकार को हटाना है। अखिलेश यादव ने आज शाहजहांपुर के बड़ा गुरूद्वारा नानकपुरी सुनसारघाट पहंुचकर मत्था टेका और संत बाबा सुखदेव सिंह जी भूरिवालों की सालाना बरसी कार्यक्रम में शिरकत की। इस मौके पर आयोजित सम्मेलन में उन्होने सभी लोगों का आभार जताते हुए संत बाबा सुखदेव सिंह जी भूरिवालों को श्रद्धांजलि दी। उन्होने शहीद नवरीत सिंह एवं बाबा कश्मीर सिंह जी को भी श्रद्धांजलि अर्पित कर स्मरण किया। 

अखिलेश यादव ने अपने सम्बोधन में याद दिलाया कि आजादी की लड़ाई में सिख समाज का बहुत बड़ा योगदान रहा है। सिख भाइयों ने पूरी दुनिया में भारत का सम्मान बढ़ाया है। समाजवादी सरकार में सिख समाज का हमेशा से सम्मान किया है। अखिलेश यादव ने कहा पिछले एक साल से दिल्ली की सीमाओं पर किसान आंदोलन कर रहे हैं। अपनी मांगों को लेकर बैठे हैं। आज किसान इस सरकार को जगाने का काम कर रहे हैं। 

सरकार ने किसानों पर अत्याचार किया। अगर आंदोलन में किसान पहुंच रहा है तो उसे चिन्हित करके परेशान किया जा रहा है। जिन लोगों ने किसानों के समर्थन में आवाज उठाने का काम किया उन पर मुकदमे लगा दिए गए। श्री यादव ने कहा जिस समय करोना बीमारी थी उस समय सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए हमारे किसानों ने आंदोलन जारी रखा है। जो आंदोलन पंजाब, हरियाणा, दिल्ली से शुरू हुआ वह गांव गांव पहुंच गया है।

 समाजवादी पार्टी इस आंदोलन के साथ पूरी ईमानदारी के साथ खड़ी है। हम जब-जब किसान आंदोलन में शामिल होने के लिए निकले तो पुलिस ने हमें गिरफ्तार किया। केन्द्र में भाजपा के गृह राज्य मंत्री अहंकार से भरे हुए हैं। उन्होंने आंदोलनकारी किसानों को धमकी दी। उसी का परिणाम हुआ कि उनके बेटे ने अपनी गाड़ी से हमारे किसान भाइयों को कुचल दिया। श्री यादव ने कहा कि जब तक किसानों को न्याय नहीं मिलेगा समाजवादी पार्टी कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी रहेगी। 

भाजपा सरकार किसानों को अपमानित करने का काम कर रही है।अखिलेश यादव ने कहा ने कहा कि भाजपा सरकार के लोगों ने किसानों को कभी मवाली तो कभी आतंकवादी कहा। भाजपा के लोग किसानों की जान ले रहे हैं। एक ट्रिलियन अर्थव्यवस्था का दावा करने वाली योगी सरकार शहीद किसानों की दो करोड़ रुपए से मदद नहीं कर रही है। अभी तक हत्यारों की गिरफ्तारी नहीं हुई। भाजपा सरकार पर किसी को भरोसा नहीं है।

 उत्तर प्रदेश ऐसा राज्य है जहां हत्या के आरोप में आईपीएस फरार हैं। गोरखपुर में पुलिस वालों ने एक व्यापारी की होटल के कमरे में हत्या कर दी। लेकिन आज तक भाजपा सरकार उन हत्यारे पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार नहीं कर पाई। ये हत्यारे फरार नहीं है, इन्हें सरकार ने फरार किया है। अखिलेश यादव ने कहा कि महंगाई लगातार बढ़ रही है। डीजल, पेट्रोल खाद, बीज सब महंगा हो गया लेकिन भाजपा को पता ही नहीं है। 

उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि सिर्फ गद्दी पर बैठने से कोई योगी नहीं हो जाता है। संत समाज के लोग जानते हैं क्योंकि योगी वह होता है जो मोह माया से दूर होता है। जिसे कुर्सी का लालच हो वह कैसा  योगी। मुख्यमंत्री अन्याय करते हैं। योगी वह होता है जो दूसरे के दुख को अपना दुख समझे।

 इस अवसर पर प्रमुख संत बाबा निर्मल सिंह, बाबा अमरजीत सिंह, बाबा अजैब सिंह, बाबा जग्गा सिंह, माता इंद्रजीत कौर खालसा, हजूर साहेब वाले बाबा जी सरदार मंजीत सिंह, सरदार कुलदीप भुल्लर गोपाल अग्निहोत्री, विक्रमजीत सिंह, हेमराज वर्मा पूर्व मंत्री, रामपाल यादव, रामसरन जी पूर्व विधायक, मनोज पारस विधायक नगीना, आर0 ए0 उस्मानी, अताउर्रहमान, डा0 रागनी सिंह, तनवीर खां जिलाध्यक्ष, शाहजहांपुर, उपेन्द्र पाल सिंह, शुभलेश यादव, की विशेष उपस्थिति उल्लेखनीय रही।