आरोग्य स्वास्थ्य मेले में मिलीं मुफ्त स्वास्थ्य सेवाएं व दवाएँ

मऊ जनपद में मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेले के माध्यम से सरकार का  मातृ व बाल स्वास्थ्य, किशोर-किशोरी स्वास्थ्य व प्रजनन स्वास्थ्य से जुड़ी जांच और परामर्श पर खास ज़ोर है । इसी के तहत जिले के चार शहरी स्वास्थ्य केद्रों समेत  40 प्राथमिक स्वास्थ्य केद्रों पर रविवार को सेहत की मुफ्त जांच और निःशुल्क दवाओं  का वितरण किया गया।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ श्याम नरायन दुबे ने बताया कि शासन के निर्देश पर रविवार को जिले के 36 स्वास्थ्य उप केंद्र, 4 पीएचसी पर  मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेले का आयोजन किया गया। एक ही छत के नीचे लोगों को अधिकाधिक स्वास्थ्य सुविधाएं, जांच, उपचार और दवाएं आदि उपलब्ध कराने के उद्देश्य से इसका आयोजन किया गया । सीएमओ ने कहा- हमारा प्रयास है कि इस मेले से अधिक से अधिक लोग लाभान्वित हों। बरसात के मौसम में बीमारियों से बचाव के लिए विशेष सतर्कता की जरूरत है। डेंगू, मलेरिया डायरिया, कॉलरा सहित सभी वायरल बीमारियों से प्रभावित लोगों के समुचित उपचार की निःशुल्क व्यवस्था है। हर एक मरीज के स्वास्थ्य की सतत निगरानी की जा रही है। स्वच्छता, सेनेटाइज़ेशन, फॉगिंग का सघन अभियान लगातार चलाया जा रहा है।  

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी व नोडल अधिकारी डॉ एसपी अग्रवाल ने बताया कि 36 ग्रामीण व चार शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेले में 136 मेडिकल अफसरों व 333 पैरामेडिकल स्टाफ की ड्यूटी लगाई गई थी  और सभी ने अवकाश के दिन भी अपना कार्य निष्ठापूर्वक किया। इसमें दूर-दराज के इलाकों व मलिन बस्तियों में रहने वाले करीब 2,129 शहरी व ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को चिकित्सीय लाभ दिया गया जिसमें 991 महिला, 933 पुरुष एवं 205 बच्चे शामिल हैं। 86 आयुष्मान कार्ड बनाए गए। 108 मरीजों को रेफर किया गया। मेले में कोविड-19 प्रोटोकाल के साथ चिकित्सीय  सेवाएँ दी गयीं । 

प्रभारी चिकित्सा अधिकारी भरहू का पुरा नगरीय स्वास्थ्य केंद्र के डॉ जावेद अख्तर ने बताया कि  वर्तमान  में मौसम के कारण काफी मरीज सामने आ  रहे हैं। जब तक मौसम स्थिर नहीं हो जाता तब तक सभी को बचने की आवश्यकता है। आवश्यकता पड़ने पर आज मरीजों को तीन से  चार घंटे रोककर ड्रिप की भी सुविधा दी गई है।  

लाभार्थियों ने सराहा-

क्यारीटोला निवासी हुस्नाबानो उम्र  42 वर्ष ने बताया कि सुबह में लूम चलाते समय चक्कर आ गया था।  पति के साथ भरहू का पुरा के अस्पताल पर आई डॉ साहब ने देखा, दवा दी और ग्लूकोज भी चढ़ाया है, अब आराम है घर के नजदीक निःशुल्क इलाज पाकर बहुत खुश हूं। 

 अतवारी देवी 61 वर्ष भरहुकापूरा निवासी ने बताया कि तीन दिन की बरसात से  ठंड बढ़ी तो  खांसी और साँस लेने में तकलीफ होने लगी थी, मैं यहाँ आयी  डाक्टर साहब ने दवा दी और इंजेक्शन लगाया, अब मुझे बहुत आराम है।  

मेले में मिलीं सुविधाएं-

मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेले में आयुष्मान  कार्ड बनवाने, गर्भावस्था एवं प्रसवकालीन परामर्श, सम्पूर्ण टीकाकरण एवं परिवार नियोजन संबंधी साधनों एवं परामर्श की व्यवस्था रही। इसके साथ ही संस्थागत प्रसव संबंधी जागरूकता, जन्म पंजीकरण परामर्श, नवजात शिशु स्वास्थ्य सुरक्षा परामर्श एवं सेवाएं, बच्चों में डायरिया एवं निमोनिया की रोकथाम के साथ ही टीबी, मलेरिया, डेंगू, फाइलेरिया, कुष्ठ आदि बीमारियों की जानकारी, जांच एवं उपचार की नि:शुल्क सेवाएं दी गयीं।