होम लोन नहीं होगा रिजेक्ट, बस कलेक्ट कर ले ये चीजें

नई दिल्ली : होम लोन को मंजूरी नहीं मिलने के सबसे बड़े कारणों आपके सपनों का घर बनाने में होमलोन कितना बड़ा मददगार है, ये आप बेहतर जानते हैं। आज सरकारी या प्राइवेट बैंक बेहद कम ब्याज पर होम लोन दे रहे हैं, इसके बावजूद आपका होमलोन रिजेक्ट हो जाता है तो आपका सपना चूर होता नजर आने लगता है। चलिए आज हम बताते हैं कि होमलोन रिजेक्ट क्यों होता है? होम लोन के लिए आवेदन से पहले अगर कुछ छोटी-छोटी कमियों को सुधार लें तो निश्चित तौर पर आपको होमलोन देने से कोई बैंक इनकार नहीं कर पाएगा। 

सबसे पहले यह जान लें कि बैंक या कोई और कंपनी किसी को होमलोन देने से पहले क्या देखती है? बैंक ग्राहकों के लिए लोन पाने की योग्यता खुद तय करता है। इस तरह उन्हें आवेदक की लोन चुकाने की क्षमता का पता चल पाता है।  लोन पाने की अपनी योग्यता की जांच करने का सबसे आसान तरीका है, होम लोन एलिजबिलिटी कैलकुलेटर। यह लोन लेने के इच्छुक लोगों को इससे जुड़ी हर चीज का सटीक लेखा-जोखा देता है।

होम लोन नहीं होगा रिजेक्ट अगर...

1. डाक्यूमेंट्स हैं पूरे 

होम लोन के लिए अप्लाई करते समय फार्म में आप जो भी जानकारी दिए हैं,  उनसे जुड़े सभी डाक्यूमेंट्स  आपके पास मौजूद होने चाहिए। जैसे, आधार कार्ड, आपको अपना पैन कार्ड, यूटिलिटी बिल, सैलरी स्लिप (वेतन पाने वाले आवेदक), या फिर लाभ और हानि विवरण (खुद का रोजगार करने वाले आवेदक), बैंक स्टेटमेंट, ITRs, और प्रॉपर्टी से जुड़े दस्तावेज।

अगर आपके पास अपनी इनकम को साबित करने के लिए डॉक्यूमेंट्स नहीं हैं कंपनी आपके लोन को नामंजूर कर सकती है। अगर जिस प्रॉपर्टी पर आप लोन लेना चा रहे हैं, उस पर किसी तरह का कोई कानूनी विवाद है तो भी दिक्कत होगी। 

2. पिछले शुल्क का है भुगतान 

होम लोन के लिए लोन देने वाली कंपनियां मंजूरी पर विचार करने से पहले क्रेडिट से जुड़ी आपकी पिछली जानकारी और आपके क्रेडिट स्कोर की जानकारी हासिल करती हैं। क्रेडिट इन्फॉर्मेशन ब्यूरो इंडिया लिमिटेड  आपका CIBIL स्कोर जारी करता है। इससे आपकी साख की पुष्टि होती है। आपकी क्रेडिट जानकारी से यह तय होता है कि आप होम लोन के लिए एक भरोसेमंद हैं या नहीं। 

क्या करें

अगर आप पर पहले से कोई बकाया कर्ज है या आपने किसी शुल्क का भुगतान नहीं किया है तो आपके लिए नया होम लोन पाने की योग्यता कम हो जाती है। आपको अपने मौजूदा बकाया कर्ज या शुल्क के भुगतान के लिए भी जिम्मेदार होना चाहिए।

3. नहीं हैं देनदारियां या FOIR है कम

अगर पहले से ही कोई लोन ले रखा है तो लोन देने वाली कंपनी आपकी आमदनी का आकलन करते समय उस लोन को चुकाने के लिए दी जाने वाली रकम को घटा देती है। मौजूदा देनदारियों को देखते हुए लोन देने वाली कंपनी को ऐसा लगे कि आप तय समयावधि के भीतर लोन नहीं चुका पाएंगे तो वह आपके लोन को नामंजूर कर सकती है।

क्या करें

आपका FOIR जितना कम होगा, नया लोन लेने की आपकी क्षमता उतनी ही अधिक होगी। अपने मौजूदा लोन को देखते हुए नए लोन को चुकाने की आपकी क्षमता का बेहतर आकलन करने के लिए, कंपनियां FOIR इंडिकेटर, यानी फिक्स्ड ऑब्लिगेशन टू इनकम रेशियो का उपयोग करती हैं। आजकल लोन देने वाली ज्यादातर कंपनियां 60 से 80 फीसद तक के FOIR वाले आवेदन को मंजूरी देती हैं।यह आंकड़ा हर कंपनी के लिए अलग-अलग हो सकता है।

4.  काम-काज या नौकरी का ज्यादा अनुभव

काम-काज या नौकरी के अनुभव की कमी आपके होतम लोन में रोड़ा डाल सकता है। आपके आवेदन पर नकारात्मक असर पड़ सकता है, क्योंकि लोन पाने की आपकी योग्यता में आमदनी के एक निश्चित स्रोत का होना बेहद महत्वपूर्ण है। लोन देने वाली ज्यादातर कंपनियां किसी भी सार्वजनिक या निजी संगठन, या बहुराष्ट्रीय कंपनी में कम से कम 3 साल के नौकरी के अनुभव वाले लोगों के आवेदन को मंजूरी देती हैं।

5. आपकी उम्र है कम

अगर आपकी उम्र है ज्यदा तो होम लोन की उम्मीद रखिए आधा। कंपनियों की नजरों में होम लोन अप्लाई करने वाले की उम्र भी एक महत्वपूर्ण घटक है। रिटायरमेंट की उम्र वाले आवेदकों को अपनी इच्छा के अनुरूप शर्तों पर लोन मिलने की संभावना काफी कम होती है, क्योंकि लोन देने वाली कंपनियों को ऐसा लगता है कि शायद वे निर्धारित समय-सीमा के भीतर लोन की रक़म नहीं चुका पाएंगे। इसका असर इतना पड़ता है कि ऐसे आवेदकों का लोन नामंजूर कर दिया जाता है, या फिर उन्हें बहुत ज्यादा EMI के साथ थोड़े ही समय के लिए होम लोन दिया जाता है। 

क्या करें

होम लोन के लिए जितना कम उम्र होगा, मिलने की उतनी ही संभावना बढ़ेगी। युवा आवेदकों के होम लोन के आवेदन को मंजूरी मिलने की संभावना अधिक होती है। वे कई सालों तक नौकरी कर सकते हैं। बुजुर्ग आवेदकों को होम लोन को मंजूरी मिलने की संभावना बढ़ाने के लिए किसी युवा सह-आवेदक के साथ आवेदन करना चाहिए।

6. आपका कम CIBIL स्कोर 750 से ज्यादा

लोन देने वाली कंपनियां आपके आवेदन को मंजूरी देने का निर्णय लेने से पहले होम लोन के लिए आपके CIBIL स्कोर पर विचार करती हैं।  आप होम लोन के लिए तभी आवेदन करें, जब आपका CIBIL स्कोर 750 से ज्यादा हो या फिर कम-से-कम 725 हो। सिबिल स्कोर 725 से कम होने पर लोन को मंजूरी नहीं मिलने, या फिर कठिन शर्तों पर लोन मिलने की संभावना बढ़ जाती है।

7. आवेदनों की जानकारी पूरी

क्रेडिट रिकॉर्ड में आपके द्वारा पहले किए गए होम लोन के आवेदनों का विवरण भी मौजूद होता है। चाहे आपको होम लोन मिला हो या नहीं। इसकी मदद से लोन देने वाली कंपनी अपने संभावित ग्राहकों के क्रेडिट प्रदर्शन का मूल्यांकन करती है, और आपको एक भरोसेमंद ग्राहक के रूप में देखती है, जिसके डिफॉल्ट होने की संभावना नहीं के बराबर है। अगर पहले भी आपके होम लोन के आवेदन को नामंजूर किया जा चुका है, तो आपके होम लोन आवेदन की अधिक जांच-पड़ताल की जाती है। लिहाजा आपके लिए यह बेहद जरूरी हो जाता है कि आप अपने प्रोफाइल को बेहतर बनाने के लिए काम करें।