लखीमपुर कांड : प्रियंका गांधी से मिलने जा रहे रॉबर्ट वाड्रा को रोका

लखनऊ। लखीमपुर खीरी हिंसा में मारे गए किसानों के परिवारों से मिलने की कोशिश में सीतापुर में हिरासत में ली गईं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट वाड्रा ने कहा कि उन्हें अपनी पत्नी प्रियंका से मिलने के लिए जाना था लेकिन उन्हें रोक दिया गया। एक फेसबुक पोस्ट में उन्होंने कहा कि मैं हैरान हूं, कैसे प्रियंका को भारतीय दंड संहिता की धारा 151 के तहत गिरफ्तार किया गया है। कल उनसे बात की और प्रियंका ने मुझे बताया कि उन्हें कोई आदेश या नोटिस नहीं दिया गया, उन्हें न्यायिक अधिकारी के सामने पेश नहीं किया गया है और वकील से मिलने की अनुमति नहीं दी गई।

 इससे पहले प्रियंका गांधी ने फोन के जरिए गेस्ट हाउस के बाहर मौजूद कांग्रेसी नेताओं से बात की और कहा कि जब तक केंद्रीय मंत्री इस्तीफा नहीं देंगे तब तक हम लोग धरना प्रदर्शन खत्म नहीं करेंगे और लड़ते रहेंगे। प्रियंका ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री लखनऊ आ सकते हैं लेकिन लखीमपुर क्यों नहीं गए। उत्तर प्रदेश पुलिस ने मंगलवार को प्रियंका गांधी वाद्रा, दीपेंद्र हुड्डा और अजय कुमार लल्लू समेत कांग्रेस के 11 नेताओं के खिलाफ शांति भंग करने की आशंका के चलते मामला दर्ज किया, जबकि विपक्षी नेताओं ने सीतापुर में प्रियंका को हिरासत में रखने जाने को लेकर भाजपा और उत्तर प्रदेश सरकार की आलोचना की। प्रियंका ने  आरोप लगाया है कि बिना किसी कानूनी आधार के संवैधानिक अधिकारों का हनन करते हुए उन्हें सीतापुर पीएसी परिसर में हिरासत में रखा गया है।