गांवों में बिजली सखी जमा करेंगी विद्युत बिल, ब्लॉक कार्यालय में दिया गया प्रशिक्षण


उरई/जालौन। गांवों में अब बिजली सखी बिजली बिल जमा करेंगी। ग्रामीण महिलाओं को रोजगार से जोड़ने के लिए तीन विकास खंडों की 60 महिलाओं को बिजली सखी का प्रशिक्षण कोंच खंड विकास कार्यालय में दिया गया। गांवों में बिजली का बिल निकालने और बिल का भुगतान जमा करने के काम पर लगाई गई स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं को अब बिजली सखी का नाम दिया गया है। 

प्रशिक्षण में कोंच, नदीगांव व जालौन ब्लॉक की 60 बिजली सखी को जिला मिशन प्रबंधक नवल किशोर, विद्युत उपखंड अधिकारी अनिरूद्ध कुमार मौर्या, धर्मवीर चौधरी, विपिन गुप्ता व सत्येंद्र कुमार ने बिजली का बिल ई पॉश मशीन से निकालने की विधि समझाई। उन्होंने बताया कि एक बिजली सखी के पास 5 गांव की जिम्मेदारी होगी। एक से लेकर 2 हजार रुपये तक के बिल पर कमीशन के रूप में उन्हें 20 रुपये मिलेंगे। यदि दो हजार से ऊपर का बिल है तो बिल धनराशि का 1 प्रतिशत कमीशन दिया जाएगा। बिजली सखी को ई.पॉश मशीन खरीदने व रिचार्ज कराने के लिए समूह से 30 हजार रुपये का ऋण दिया जाएगा। इस दौरान विकास खंड कार्यालय व विद्युत विभाग के स्थानीय अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे।