महंगाई की मार, टमाटर 70 रुपए के पार

नई दिल्ली : पेट्रोल-डीजल और गैस की कीमतों के बीच अब सब्जियों के दाम भी बढ़ने लगे हैं। देश के मेट्रो शहरों में प्रति किलो टमाटर की कीमत 70 रुपए के पार चली गई है। 

किस शहर में कितनी कीमत: बीते 12 अक्टूबर को कोलकाता में टमाटर की कीमत 72 रुपये प्रति किलोग्राम थी, जबकि कुछ दिनों पहले तक 38 रुपये प्रति किलोग्राम पर बिक्री हुई थी। उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय के आंकड़ों को ही मानें तो एक माह में दिल्ली और चेन्नई में, टमाटर की खुदरा कीमतें क्रमश: 30 रुपए और 20 रुपए प्रति किलोग्राम से बढ़कर 57 रुपए प्रति किलोग्राम हो गई है। आंकड़ों से पता चलता है कि इस दौरान मुंबई के खुदरा बाजारों में टमाटर की कीमत 15 रुपए प्रति किलोग्राम से बढ़कर 53 रुपए प्रति किलोग्राम हो गई है।

क्या है बढ़ोतरी की वजह: राजधानी दिल्ली की आजादपुर मंडी के टमाटर व्यापारी एसोसिएशन के अध्यक्ष अशोक कौशिक ने बताया, "मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र जैसे उत्पादक राज्यों में बेमौसम बारिश ने फसल को नुकसान पहुंचाया है। इससे दिल्ली जैसे उपभोक्ता बाजारों में आपूर्ति प्रभावित हुई है। यही वजह है कि थोक और खुदरा दोनों बाजारों में टमाटर के दाम बढ़ गए हैं।"  अशोक कौशिक के मुताबिक बेमौसम बारिश वाले उत्पादक राज्यों में टमाटर की 60 प्रतिशत फसल बर्बाद हो गई है। नतीजतन, आजादपुर मंडी में एक महीने में टमाटर की कीमतें लगभग दोगुनी होकर 40-60 रुपये प्रति किलोग्राम हो गई हैं। उन्होंने बताया कि टमाटर की आवक में भी गिरावट आई है।

दूसरा सबसे बड़ा उत्पादक: नेशनल हॉर्टिकल्चरल रिसर्च एंड डेवलपमेंट फाउंडेशन के अनुसार, चीन के बाद दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा टमाटर उत्पादक देश भारत है। भारत, 7.89 लाख हेक्टेयर क्षेत्र से लगभग 25.05 टन प्रति हेक्टेयर की औसत उपज के साथ लगभग 19.75 मिलियन टन टमाटर का उत्पादन करता है।