पीएम मोदी 25 अक्टूबर को आएंगे वाराणसी, रिंग रोड सहित कई योजनाओं की देंगे सौगात

वाराणसी : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का 25 अक्टूबर को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में आगमन लगभग तय हैं. इस मौके पर पीएम यहां के लोगों को करोड़ों की योजनाओं की सौगात दे सकते हैं. साथ ही, वे यहां एक रिंग रोड का भी शुभारंभ करेंगे. पीएम के आगमन को लेकर तैयारियां शुरू कर दी गई हैं. पीएम के प्रस्तावित कार्यक्रम को लेकर सर्किट हाउस में बीजेपी के सह प्रभारी सुनील ओझा और काशी क्षेत्र अध्यक्ष महेश चंद श्रीवास्तव के नेतृत्व में बैठक का भी आयोजन किया गया। बीजेपी के सह प्रभारी सुनील ओझा ने बताया कि कोरोना के बाद यह पीएम की सबसे बड़ी जनसभा होगी. इसके लिए संगठन की बैठक की गई है. बैठक में सभी विधानसभा प्रभारियों को निर्देशित किया गया है कि पीएम के कार्यक्रम की वह सबको जानकारी दें. साथ ही जनससभा के बारे में बताएं। सह प्रभारी ने समाजवादी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि वर्ष 2017 से पहले हर रोज प्रदेश में 400 से ज्यादा गंभीर अपराध होते थे, जिसकी पीड़ा जन-जन ने झेली है. हम भारत माता की जय वाले लोग हैं, हमने जनधन योजना में लोगों का अकाउंट खुलवाया है. बीजेपी ने घर-घर शौचालय बनवाए हैं. मुफ्त अनाज दिया जा रहा है. साथ ही सबको मुफ्त में कोविड का टीका देने का काम भी बीजेपी की सरकार ही कर रही है। काशी क्षेत्र अध्यक्ष महेश चंद श्रीवास्तव ने बताया कि, अभी पीएम की जनसभा के लिए किसी स्थान का चुनाव नहीं किया गया है, लेकिन रिंग रोड के आस-पास ही जनसभा होगी. उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की जब भी कोई भी बैठक या सभा होती है तो शहर के लोग का जनसैलाब उमड़ पड़ता है, जबकि अन्य पार्टियों को अपनी सभाओं में लोगों को बाहर से लाना पड़ता है. भारतीय जनता पार्टी करोड़ों लोगों की पार्टी है और यहां उत्तर प्रदेश में एक समृद्धशाली पार्टी है. जिसके पास पर्याप्त मात्रा में अपने कार्यकर्ता हैं और हर बूथ पर एक समिति है। मीडिया रिपोर्ट्स से मिली जानकारी के अनुसार, वाराणसी के विकास को रफ्तार देने वाली रिंग रोड सहित दो दर्जन परियोजनाओं को प्रधानमंत्री 25 अक्टूबर को लोकार्पित करेंगे. पीएम के आगमन की जानकारी लगते ही प्रशासन की ओर से तैयार हो चुकी परियोजनाओं की सूची तैयार की जा रही है. साथ ही परियोजनाओं के भौतिक सत्यापन के लिए मजिस्ट्रेट की नियुक्ति का आदेश जारी कर दिया गया है.

पीएम मोदी इससे पहले 15 जुलाई को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी आए थे. इस दौरान उन्होंने करीब 1500 करोड़ रुपये की परियोजनाओं की सौगात दी थी. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पीएम मोदी का ये दौरा और भी खास हो जाता है. पीएम इस दौरान कुछ नई योजनाओं की आधारशिला भी रख सकते हैं। इधर, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने हाल ही में वाराणसी में किसान न्याय रैली को संबोधित करने के दौरान कई बातों का जिक्र किया. इस रैली के साथ ही प्रियंका गांधी ने एक तरह से कांग्रेस पार्टी के मिशन इलेक्शन 2022 का आगाज भी कर दिया. अपने भाषण में प्रियंका गांधी ने हर उस बात का जिक्र किया, जिसकी उम्मीद की गई थी. खास बात यह रही कि प्रियंका गांधी ने रैली को संबोधित करते हुए लखीमपुर खीरी हिंसा का जिक्र किया. साथ ही योगी और मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा।