टी20 वर्ल्ड कप के पहले मैच में भारत पर मिली ऐतिहासिक जीत के बाद मिसबाह उल हक ने खिलाड़ियों को दी नसीहत

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान मिसबाह उल हक और मौजूदा कप्तान बाबर आजम ने टी20 वर्ल्ड कप के पहले मैच में भारत पर मिली ऐतिहासिक जीत के बाद खिलाड़ियों को नसीहत दी है कि वे जीत के खुमार में जरूरत से ज्यादा नहीं डूब जाएं। टी20 वर्ल्ड कप से एक महीने पहले ही नैशनल टीम के हेड कोच के पद से इस्तीफा देने को मजबूर हुए मिसबाह ने कहा कि खिलाड़ियों को वर्ल्ड कप जीतने पर फोकस करना चाहिए।

टूर्नामेंट से पहले बॉलिंग कोच के पद से इस्तीफा देने वाले वकार युनूस के साथ एक चैनल पर मिसबाह ने कहा, 'उम्मीद है कि हम जश्न के खुमार में डूब नहीं जाएंगे और यह नहीं भूलेंगे कि हमें और भी मैच खेलने हैं और वर्ल्ड कप जीतना है।' मिसबाह ने कहा कि टीम ने बेहद अनुशासित प्रदर्शन करके भारत को दस विकेट से हराया। उन्होंने कहा, 'अब इसी अनुशासन को आगे भी बनाए रखना है। हर खिलाड़ी को अपनी भूमिका निभानी है।' वकार ने कहा कि पाकिस्तान क्रिकेट में यह चलन रहा है कि जीत का खुमार हावी हो जाता है।

उन्होंने कहा, 'यह पहला ही मैच था और हमें दूसरी मजबूत टीमों से भी खेलना है। हमने आज भारत को हरा दिया तो इसके यह मायने नहीं है कि हम यह मान लें कि हम न्यूजीलैंड और अफगानिस्तान को भी हरा सकते हैं। हमें मेहनत करनी होगी।' भारत के खिलाफ जीत के बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड द्वारा जारी वीडियो में बाबर आजम ने भी खिलाड़ियों से यही बात कही। उन्होंने कहा, 'जश्न मनाइए। होटल लौटकर अपने परिवार के साथ इस पल का मजा लीजिए लेकिन यह नहीं भूलना है कि यह मैच हो चुका है और हमें बाकी मैचों की तैयारी करनी है।'

उन्होंने कहा कि भारत को हराने के बाद टीम से अपेक्षाएं बढ गई हैं और अब अधिक मेहनत करनी होगी। उन्होंने कहा, 'मैं चाहता हूं कि आज रात हर खिलाड़ी इस पल का आनंद लें लेकिन टीम में अपनी भूमिका और बाकी मैचों में अपेक्षाओं को भी याद रखें। हम यहां सिर्फ भारत को हराने नहीं आए हैं बल्कि वर्ल्ड कप जीतने आए हैं । यह भूलना नहीं है।' पाकिस्तान के अंतरिम हेड कोच सकलेन मुश्ताक ने कहा, 'हमें आत्ममंथन करना है कि आज इस अंदाज में मैच जीतने के लिए हमने क्या किया। अपनी कमजोरियों को दुरुस्त करना है। जीत के खुमार में जज्बात पर काबू रखना है।'

पूर्व टेस्ट तेज गेंदबाज अकीब जावेद ने कहा कि नई गेंद से शाहीन शाह अफरीदी के दो विकेट और हसन अली का एक विकेट अहम रहा जिसने भारत को दबाव में ला दिया और भारतीय टीम उससे उबर नहीं सकी। उन्होंने कहा, 'भारत दुनिया की बेस्ट टीमों में से है और उसे यूं हराना अद्भुत है। शायद फाइनल में फिर उनसे सामना हो।'