NEET 2021 : पटना में 37 केंद्रों पर होगी परीक्षा, चाक-चौबंद व्यवस्था

नीट में नकल और किसी प्रकार की गड़बड़ी रोकने के लिए चाक-चौबंद व्यवस्था की गई है। रविवार 12 सितंबर को होने वाली परीक्षा के लिए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने हर शहर के परीक्षा केन्द्र पर विशेष टीम की मौजूदगी रहेगी। बिहार के सात शहरों में परीक्षा होनी है। जबकि पिछले साल सिर्फ गया और पटना में सेंटर बनाया गया था।

एनटीए ने जिला प्रशासन को लिखा पत्र: मिली जनकारी के बाद जेईई मेन गिरोह द्वारा कई खुलासे के बाद नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) को भी सीबीआई ने अलर्ट कर दिया है। इसके बाद से एनटीए सभी सेंटर्स की सुरक्षा बढ़ाने की तैयारी में जुट गया है। नीट सेंटर पर बेहतर सुरक्षा को लेकर एनटीए ने सभी जिले, जहां नीट का सेंटर है उसके जिला प्रशासन को पत्र लिख कर कड़ी सुरक्षा की मांग की है। सुरक्षा व्यवस्था को बेहतर बनाये रखने की मांग एनटीए ने किया है। पटना, गया, नालंदा, सीतामढ़ी, मधुबनी, वैशाली, हाजीपुर, जिला प्रशासन को इस संबंध में पत्र भी लिखा गया है। 

को-ऑर्डिनेटर नियुक्त

सुरक्षा व्यवस्था बेहतर हो और परीक्षा व्यवस्थित आयोजित कराने को लेकर एनटीए ने पटना में चार सिटी को-ऑर्डिनेटर नियुक्त किये हैं। केंद्रीय विद्यालय खगौल व केंद्रीय विद्यालय दानापुर के प्राचार्य के साथ-साथ दो निजी स्कूल के प्राचार्य को एनटीए ने सिटी को-ऑर्डिनेटर नियुक्त किया है। 

जिले में बने 126 केंद्र

पूरे देश में 202 शहरों के 3862 केंद्रों पर परीक्षा होगी। वहीं, बिहार में इसबार 60 से 65 हजार अभ्यर्थी शामिल होंगे। इसके लिए पटना जिले में 126 केंद्र बनाये गये हैं। वहीं, पटना शहर में 37 केंद्रों पर परीक्षा होगी। जिसमें करीब 20 हजार परीक्षार्थी शामिल होंगे। बिहार में करीब 190 सेंटर बने हैं।

एक कमरे में छात्र 12 बैठेंगे

छात्रों को परीक्षा में सामाजिक दूरी का पालन करना होगा। एक कमरे में 12 से ज्यादा अभ्यर्थी नहीं बैठेंगे। छात्रों को मास्क, सेनेटाइजर दिये जायेंगे। सभी केंद्रों को परीक्षा से पहले और बाद सेनेटाइज किया जाएगा। परीक्षा केंद्रों के रजिस्ट्रेशन डेस्क पर एक बार में अधिकतम 15 अभ्यर्थी ही हो सकते हैं।