IND vs ENG: BCCI ने बताया, भारत और इंग्लैंड के बीच पांचवां टेस्ट रद्द होने के बाद सीरीज का नतीजा

भारत और इंग्लैंड के बीच मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर खेले जाने वाले सीरीज का पांचवें और आखिरी टेस्ट मैच को कोरोना वायरस के चलते रद्द कर दिया है। बीसीसीआई और ईसीबी ने काफी चर्चा करने के बाद यह फैसला लिया। टीम में कोविड-19 के कई मामले सामने आने के बाद भारतीय खिलाड़ियों ने टेस्ट के पहले दिन मैदान पर उतरने से साफ इनकार कर दिया, जिसके बाद इस मुकाबले को रद्द करने का निर्णय लिया गया। भारत हालांकि टेस्ट सीरीज में अभी भी 2-1 से आगे है और सीरीज के पांचवें टेस्ट मैच को बाद में आयोजित किया जाएगा। बीसीसीआई ने इस बात की जानकारी दी है।

बीसीसीआई ने बयान जारी करते हुए कहा, 'बीसीसीआई और ईसीबी के बीच मजबूत रिश्तों को देखते हुए, बीसीसीआई ने ने रद्द हुए टेस्ट मैच को रिशेड्यूल करने के लिए ईसीबी को ऑफर दिया है। दोनों ही बोर्ड इस टेस्ट मैच को आयोजित करने के लिए विंडो की तलाश करेंगे।' गुरुवार को टीम इंडिया के फिजियो योगेश परमार कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे, जिसके बाद भारतीय खेमे में हड़कंप मचा गया था। हालांकि, भारतीय टीम के सभी खिलाड़ियों के आरटी-पीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट नेगेटिव आई थी और यह माना जा रहा था कि पांचवां टेस्ट अपने तय कार्यक्रम के हिसाब से ही खेला जाएगा। इस मैच के अब अगले इंग्लैंड दौरे पर होने की उम्मीद है। अगले साल भारत लिमिटेड ओवरों की सीरीज खेलने के लिए इंग्लैंड का दौरा करेगी। इस मैच के रद्द होने के साथ ही भारत ने अभी 14 साल बाद इंग्लैंड की सरजमीं पर टेस्ट सीरीज जीतने का मौका गंवा दिया। हालांकि टीम के पास अब भी मौका है, लेकिन उसके लिए टीम को अभी इंतजार करना होगा।

बता दें कि चौथे टेस्ट मैच के दौरान भारतीय खेमे में कोरोना की एंट्री हो गई थी। सबसे पहले टीम के हेड कोच रवि शास्त्री कोरोना की चपेट में आए थे। शास्त्री इस समय आइसोलेशन पीरियड से गुजर रहे हैं। उनके अलावा फील्डिंग कोच आर श्रीधर, बॉलिंग कोच भारत अरुण और फिजियो नितिन पटेल भी लंदन में आइसोलेशन में हैं। ओवल टेस्ट मैच में टीम इंडिया ने शानदार प्रदर्शन करते हुए इंग्लिश टीम को 157 रनों से रौंदा था और सीरीज में 2-1 की बढ़त हासिल की थी।