CM आदित्यनाथ का ऐलान, फिर बढ़ेगा आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों व सहायिकाओं का मानदेय

प्रदेश की आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों और सहायिकाओं के लिए अच्छी खबर। उनका मानदेय एक बार फिर बढ़ने जा रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पोषण अभियान के तहत मंगलवार को आयोजित कार्यक्रम में यह ऐलान किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि एक महीने पहले मैंने कहा था कि आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों के बकाए का भुगतान किया जाए। विभाग ने जो कार्रवाई की, उसे लोगों ने बढ़ा हुआ मानदेय समझा। ये तो पिछला वाला था। अभी सरकार उनको और भी देने जा रही है। 1.23 लाख आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों को स्मार्ट फोन और 1.83 लाख इन्फेन्टोमीटर वितरण कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने विश्वास जताया कि स्मार्ट फोन से ये कार्यकत्रियां स्मार्ट बनेंगी। इससे शिशु-मातृ मृत्यु दर को नियंत्रित करने में मदद मिलेगी।

योगी ने कहा कि चार साल पहले यही कार्यकत्रियां धरना-प्रदर्शन के लिए बदनाम थीं लेकिन मैं आंगनबाड़ी वर्कर, आशा, एएनएम की ताकत को जानता था। हमने इस ताकत को कोरोना के दौरान आजमाया और उत्तर प्रदेश का मॉडल पूरे विश्व में सराहा गया। 

इससे पहले 14 सितंबर को उत्तर प्रदेश बाल विकास व पुष्टाहार विभाग की प्रमुख सचिव वी हेकाली झिमोमी ने आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों, सहायिकाओं का मानदेय बढ़ाने का आदेश जारी किया था। इस आदेश के अनुसार मानदेय कितना बढ़ा है इसे नीचे देख सकते हैं-

3.73 लाख आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों व सहायिकाओं का बढ़ चुका है मानदेय-

पद संख्या--अभी तक मानदेय ---प्रोत्साहन राशि कुल मानदेय+प्रोत्साहन राशि

आंगनबाड़ी कार्यकत्री- (1.89 लाख)-- 5500 रुपये-----------1500 रुपये -----------7000 रुपये

मिनी आंगनबाड़ी कार्यकत्री (18 हजार) --4250 रुपये -----------1250 रुपये-----------5500 रुपये

आंगनबाड़ी सहायिकाएं (1.66 लाख)--3250 रुपये -----------750 रुपये-----------4000 रुपये