जनचेतना मिशन का उद्देश्य आपसी प्रेम, प्यार और सेवा: सतेन्द्र आहूजा

सहारनपुर। दिल्ली रोड स्थित एक होटल के सभागार में जनचेतना के संकल्प के द्वारा जनचेतना मिशन के अध्यक्ष सतेन्द्र आहूजा ने ‘आज की शाम आप सबके नाम’ पारिवारिक कार्यक्रम का शुभारंभ किया। 

अध्यक्ष सतेन्द्र आहूजा ने कहा कि जनचेतना मिशन का उद्देश्य आपसी प्रेम, प्यार और सेवा ही है। कोविड महामारी के कारण लोगों को भीषण कठिनाईयों का सामना करना पड़ा है, जिसमें प्रमुख समस्या यह रही कि कोरोना काल के दौरान कोई भी व्यक्ति एक दूसरे से नहीं मिल पाया। लेकिन कोविड-19 के दौरान ऐसा होना भी उचित था, क्योंकि इससे हम लोगों ने अपने-अपने परिवार को सुरक्षित रखने में सफलता पायी। परन्तु स्थितियां सामान्य होने के साथ-साथ अब हम आज सब पारिवारिक सभा मंे सम्मिलित हुए हैं। 

कार्यक्रम संयोजक मालती चावला, रमन चावला, विशाखा खरबंदा व वीशू खरबंदा ने सभी को काफी गुदगुदाया। कार्यक्रम के दौरान सभी सदस्यों ने अपने-अपने विचारों से सभी को मंत्रमुग्ध किया। कपल गेम में आशू सिंधू, प्रमोद सेठ, संजय अरोडा ने समां बाधां। रवि बब्बर ने गीत गजलों से सभागार के वातावरण को खुशनूमा बना दिया। हरीश डंग व रीनू डंग ने अपनी प्रस्तुतियों से खूब तालियां बटोरी। संस्था के सम्मानित सदस्य अक्षय त्यागी के जन्मदिवस की खुशी मेें सभी सदस्यों द्वारा केक कटवाकर उनको दीर्घायु की कामना की गयी।

महासचिव शिवचंद्र गुलाटी ने कहा कि जनचेतना मिशन लावारिश शवों के दाह-संस्कार की सेवा निभाती है। कोरोना काल मंे जनचेतना मिशन द्वारा लावारिश शवांे के साथ-साथ उन शवांे का दाह-संस्कार करने की भी सेवा निभाई जिनको उनके परिजनों को भी दाह संस्कार करने में कठिनाईयां आ रही थी। क्योंकि उस समय इतनी भंयकर परिस्थितियां थी कि ऐसा देखने को मिला कि जिनके घर मंे किसी का स्वर्गवास हो गया और परिवार के अन्य सभी सदस्य अस्पतालों में इलाज हेतु भर्ती थे। अब परिस्थितियां धीरे-धीरे सामान्य हो रही हैं। इसी कडी में आज सभी से पारिवारिक मुलाकात करके नई ऊर्जा प्राप्त की गयी है। 

संयोजक गुरविन्दर सिंह ने कहा कि आने वाले समय में जन चेतना मिशन द्वारा कई नये प्रोजेक्ट शुरू किये जा रहे हैं, जिसमें स्वास्थ्य मेले का आयोजन किया जायेगा। कार्यक्रम में सभी ने खूब आनंद उठाया और लम्बे समय बाद एक दूसरे से परिवार सहित मिलकर  सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न की। कार्यक्रम में मनोज खुराना, एच.एस.ग्रोवर, कोषाध्यक्ष सुनील मखीजा, प्रमोद सेठ, आशु सिंधु, रवि बब्बर, विकास खरबंदा, रमन चावला, राज जुनेजा, कमल शर्मा, नीलम नागपाल, रजनी मखीजा, इंदु खुराना, स.हरजीत सिंह, प्रताप सिंह,राजीव सैनी, शिवचंद्र गुलाटी महासचिव आदि मौजूद रहे।