सड़क के किनारे फेंकी गई भारी मात्रा में एक्सपाइरी दवा

बलिया। सरकारी अस्पतालों पर मरीजों को दवा नही है और सरकारी दवाइयां एक्सपाइरी होना समूचे सिस्टम को कठघरे में खडा करता है। मामला जनपद के नगरा रसडा मार्ग पर लकडा नाले के पुलिया के समीप सड़क के किनारे भारी मात्रा में एक्सपाइरी दवा देख सभी हैरान हैं कि आखिर यह महंगी महंगी दवाओं को फेका किसने। शुक्रवार को सड़क के किनारे दवा के पत्तों को देख लोंगों की भीड़ लग गई। इन एक्सपाइरी दवाओं में डाईसाइक्लोमीन काफी मात्रा में थी। इसके बगल में प्लास्टिक के थैले में अन्य दवाएं भी थीं। भयवश थैले को कोई खोल नही रहा था। डाईसाइक्लोमीन पेट दर्द की दवा है। यह दवा सितंबर 2019 में बनी थी व अगस्त 2021 में एक्सपायर हो गई थी। दवाओं पर गवर्मेंट सप्लाई लिखा था। स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों के अनुसार एक्सपायर हो चुकी दवाओं का घोल बना कर नष्ट कर दिया जाता है या मिट्टी में दबा दिया जाता है। इस तरह सड़क के किनारे दवाओं के फेकें जाने में कौन दोषी है यह तो जांच के बाल पता चलेगा।