विभिन्न समस्याओं को लेकर व्यापारियों ने जिला मुख्यालय पर किया प्रदर्शन

 

तीन सूत्रीय ज्ञापन डीएम को सौंप कार्यवाही की मांग की

सहारनपुर। सामाजिक उद्योग व्यापार मण्डल से जुड़े व्यापारियों ने आज जिले की विभिन्न समस्याओं की मांग को लेकर जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन कर नारेबाजी तथा जिलाधिकारी को तीन सूत्रीय ज्ञापन सौंपकर कार्यवाही की मांग की।

प्रदर्शनकारियों को सम्बोधित करते हुए जिलाध्यक्ष राजेश गुलाटी ने कहा कि नगर निगम सहारनपुर द्वारा स्मार्ट सिटी के नाम पर पहले ही अत्यधिक करों में वृद्धि की जा चुकी है, और सुविधाओं के नाम पर नगर निगम टूटी सड़कें व अन्य असुविधाएं प्रदान कर रहा है। अब फिर निगम की मंशा है कि वह टैक्सों में वृद्धि  कर आम जनता को चूसने का काम करे। व्यापार मण्डल यह कतई बर्दाश्त नहीं करेगा। 

पिछले दो वर्षों से कोविड-19 की महामारी के कारण कारोबार व बेरोजगारी बढ़ गयी है, उस निगम प्रशासन द्वारा इस प्रकार की जनविरोधी कार्यशैली अख्तियार करना जनता के साथ नाइंसाफी है, जिसे बर्दाश्त नहीं किया जायेगा, आधार कार्ड में नाम करेक्शन, जन्मतिथि, पता आदि के नाम पर उपभोक्ताओं का शोषण किया जा रहा है। 

सेन्टरों पर खुली लूट है। चेहरा देखकर अवैध वसूली की जा रही है। पेट्रोल पम्पों पर वाहन चालकों की जेबों पर डांका डाला जा रहा है। टतौली की शिकायतंे आये दिने देखने को मिलती हैं। दो लीटर पेट्रोल लेने पर सिर्फ डेढ़ लीटर की टंकी में जाता है, और आधा लीटर पेट्रोल की बंदरबाट पेट्रोल स्वामी व पेट्रोल डालने वाला स्टॉफ चट कर जाता है, यह खुली लूट है।

 एक तो पहले से ही उपभोक्ता एवं व्यापारी महंगाई की मार झेल रहा है उस पर पेट्रोल पम्प स्टॉफ का इस प्रकार का रवैया व्यापारियों को पेट्रोल पम्प संचालकों के खिलाफ आंदोलन करने को विवश कर रहा है। एलपीजी गैस में भी धांधलेबाजी की जा रही है। यदि शीघ्र ही इस मामले का संज्ञान न लिया गया तो प्रत्येक पेट्रोल पम्प पर 

धरना-प्रदर्शन किया जायेगा। प्रदर्शनकारियों में मुख्य रूप से गौरव गुम्बर, राजू सुखीजा, शिवा पालीवाल, सुमित सिडाना, नवीन अग्रवाल, विरेन्द्र बहल, सुशील कुमार आदि मुख्य रहे।