योगी आदित्यनाथ ने मथुरा को किया तीर्थ स्थल घोषित, साधु संतों ने जताया आभार

मथुरा।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को प्रदेश के धार्मिक पयर्टन स्थल केंद्र को लेकर बड़ा फैसला किया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने भगवान श्रीकृष्ण की जन्मस्थली मथुरा के वृंदावन के दस किलोमीटर को तीर्थ स्थल घोषित किया है।तीर्थ स्थल घोषित होने से ब्रज वासियों में हर्ष की लहर दौड़ गई है।सीएम योगी आदित्यनाथ ने श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर मथुरा दौरे पर लोगों से किया गया वादा शुक्रवार को पूरा कर दिया। उनके निर्देश पर उत्तर प्रदेश शासन ने भगवान श्रीकृष्ण के जन्मस्थान ब्रज में मांस व मदिरा की बिक्री पर पाबंदी लगा दी है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने इसको लेकर एक ट्वीट भी किया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने मथुरा-वृंदावन में श्री कृष्ण जन्म स्थल को केंद्र में रखकर दस वर्ग किलोमीटर क्षेत्र के कुल 22 नगर निगम वार्ड तथा क्षेत्र को तीर्थ स्थल के रूप में घोषित किया है।प्रदेश सरकार के इस निर्णय के तहत अब यहां पर दस किलोमीटर के क्षेत्र में शराब और मीट नही बिकेगा। इस क्षेत्र में मांस व मदिरा की बिक्री पर रोक को लेकर शीघ्र ही आदेश भी जारी कर दिया जाएगा।योगी आदित्यनाथ सरकार ने ब्रज क्षेत्र में हर साल आने वाले लाखों श्रद्धालुओं की आस्था के सम्मान में यह फैसला लिया है। अब तीर्थ स्थल क्षेत्र में शराब और मांस की बिक्री नहीं होगी। इस पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगा दिया गया है। आपको बता दें कि श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संतों की इच्छा के अनुरूप मथुरा तीर्थ क्षेत्र में मांस और मदिरा की बिक्री पर रोक लगाने का वादा किया था।रोक लगाए जाने पर नागेंद्र महाराज , सुदामा कुटी के सुतीक्षणदास महाराज, महामंडलेश्वर श्री राधा प्रसाद देव जू महाराज, देव मुरारी बापू,महंत मोहिनी शरण, बद्रीश, श्री रामानंद देव सरस्वती महाराज , हिंदूवादी नेता आर एन द्विवेदी राजू भैया, डॉ मनोज मोहन शास्त्री, संजीव कृष्ण शास्त्री ,मनीष पूर्णानंद महाराज, हिंदू महासभा के दिनेश कौशिक धर्म रक्षा संघ के सौरभ गोड, विश्व हिंदू परिषद के बच्चू सिंह व भाजपा जिला अध्यक्ष मधु शर्मा आदि ने सीएम का आभार प्रकट किया है।