शांति, एकता और आपसी सदभावना के लिए शांति मार्च निकाला

सहारनपुर। आज अंतराष्ट्रीय शांति दिवस के अवसर पर मेरठ सेवा समाज द्वारा संचालित परियोजना संवाद के अंतर्गत नगर निगम के वार्ड संख्या 5 सड़क दूधली में अंतराष्ट्रीय शांति दिवस बड़ी धूमधाम के साथ मनाया गया। 

इस अवसर पर मेरठ सेवा समाज द्वारा एमडीएम स्कूल के छात्र एवं छात्राओं के सहयोग से विशाल शांति मार्च निकाला गया। जिसका उदघाटन संयुक्त रूप से पार्षद अब्दुल वाजिद, श्री प्रेमचंद, आबिद मुखिया, महताब अली, नासिर मुखिया, अफ़ज़ाल एडवोकेट, नरेश गौतम ने फीता काटकर ओर हरी झंडी दिखाकर किया। शांति मार्च वार्ड 5 के विभिन्न मार्गों से होते हुए समुदाय को शांति एकता और आपसी भाईचारे का संदेश देते हुए कब्रस्तान वाले चौराहे पर समाप्त हुआ। गांव के अलग अलग समुदाय के लोगो ने शांति मार्च में प्ले कार्ड, बेनर, शांति एकता के नारे ओर माइकिंग के माध्यम से एकता के संदेश की मुक्तकंठ से सराहना की और इस अभियान को एक अनूठा कदम बताया। शांति मार्च के समापन के अवसर पर परियोजना समन्वयक अबदेश कुमार ने कहा कि एक दिन ही शांति का प्रचार करने से बल्कि इस तरह के प्रयास सामुदायिक स्तर पर हर रोज किये जाने चाहिए ताकि समुदाय में एकता, सामंजस्य ओर भाईचारा बना रहे। और समाज को तोड़ने वाली ताकतो के प्रयास असफल ही रहे। स्कूल के प्रबंधक महताब अली ने कहा कि हम ओर हमारा समाज एकता व भाईचारे से रहना पसंद करता है कुछ चंद लोग अपने निजिस्वार्थ के लिए लोगो को लड़ाने का काम करते है। पार्षद अब्दुल वाजिद ने कहा कि हमारी भलाई एकता व भाईचारे में रहने में ही है। किसी भी देश की तरक्की वहाँ के लोगो की एकता व भाईचारे पर ही निर्भर करती है।

प्रेमचंद ने कहा कि आपसी भाईचारे से रहने में ही हमारी भलाई है। हम समाज को आपसी भाईचारे से रहने पर ज्यादा से ज्यादा लोगो को इस अभियान में जोड़े। 

आबिद मुखिया ने कहा कि देश को तोड़ने वाली ताकते ही आपस मे भोले भाले लोगो को लड़ाते है। स्कूल के समस्त अध्यापकों ने अनुशासन बनाये रखने में महत्वपूर्ण योगदान दिया। 

इस अवसर पर डॉक्टर अशोक मलिक, नरेश गौतम, नासिर मुखिया, अफ़ज़ाल एडवोकेट, प्रेरक जुबेर , श्रवण कुमार, रजनी, किरण आदि मुख्य रूप से रहे।