दिव्या अग्रवाल की वजह से नेहा भसीन को आने लगे आत्महत्या के ख्याल? बीबी ओटीटी विनर ने यूं किया रिएक्ट

करण जौहर का शो ‘बिग बॉस ओटीटी’ भले ही खत्म हो गया हो, लेकिन शो में कंटेस्टेंट के बीच आई दरार अब भी कायम है। ‘बिग बॉस ओटीटी’ विनर दिव्या अग्रवाल के साथ शमिता शेट्टी और नेहा भसीन के रिश्ते कुछ खास नहीं रहे। पूरे सीजन नेहा, शमिता का दिव्या के साथ झगड़ा ही देखा गया। शो से बाहर निकलने के बाद भी नेहा ने दिव्या पर आरोप लगाया कि उनकी वजह से उनकी मेन्टल हेल्थ पर बहुत असर पड़ा है। घर से बेघर होने के बाद सिंगर नेहा भसीन ने कहा कि दिव्या अग्रवाल जैसे कंटेस्टेंट्स ने उनके दिमाग से खेला और उन्हें डिप्रेशन का शिकार बना दिया है। उन्होंने ये भी कहा कि उनके मन में बार-बार आत्महत्या का खयाल भी आ रहे हैं। दिव्या अग्रवाल ने शो से बाहर आने के बाद इस पर प्रतिक्रिया दी है।  नेहा भसीन ने शो से बाहर होने के बाद, दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने अंडरगारमेंट पर दिव्या अग्रवाल के साथ अपनी लड़ाई के बारे में बात की थी। नेहा ने कहा था, “दिव्या को पता था कि अंडरगारमेंट वाली बात मुझे प्रभावित कर रही थी और बहुत कम चीजें थीं जो सच में प्रभावित करती थीं। शो में रहने के दौरान मुझे बहुत ही ज्यादा तोड़ने की कोशिश की गई। मैं रोती थी लेकिन, मुझे तोड़ना मुश्किल था और इसलिए यही वह चीज थी जिसे वे शो में दोहराती रहीं।” नेहा ने आगे कहा,”अब, मैं एक कमेंट करने जा रही हूं जो मुझे पता है कि बहुत बड़ी है लेकिन यह सच है कि मेरे करियर की शुरुआत में दिव्या जैसे लोगों ने मेरे दिमाग से खेला है और मुझे डिप्रेशन का शिकार बना दिया। मुझमें आत्महत्या करने के विचार आए है।  ऐसा कहने के लिए मैं उनके परिवार से माफी मांगती हूं लेकिन, यह सच है कि दिव्या ने शो में यही किया न केवल मेरे साथ बल्कि शो में कई अन्य कंटेस्टेंट्स के साथ भी।”अब इस मामले पर दिव्या अग्रवाल का रिएक्शन सामने आया है। दिए एक इंटरव्यू में दिव्या ने कहा, “यह फनी है कि लोग लोगों को इतना प्रभावित कैसे कर सकते हैं। और नेहा ने हमेशा कहा है कि वह एक बहुत मजबूत महिला है। लेकिन एक मजबूत महिला वह भी होती है जो डर को स्वीकार करती है। घर के अंदर, कई बार, नेहा ने कहा कि मैं बचपन से बहुत रोई हूं और बचपन से ही लोगों ने थ्रेट किया है।  फिर भी मैं मजबूत हूं। लेकिन मेरा मानना है कि जब आप इससे उबर जाते हैं तो आप मजबूत होते हैं और चीजें तब आपको प्रभावित नहीं करती हैं।