थाना नागल पुलिस ने की नशा कारोबारियों पर दो बड़ी कारवाई

 600 ग्राम अवैध चरस के साथ दो व अवैध कच्ची शराब की भट्टी व शराब बनाने के उपकरणों के साथ तीन को किया गिरफ्तार, एक फरार

सहारनपुर। थाना नागल प्रभारी बीनू सिंह के कुशल नेतृत्व में नागल पुलिस ने दो अलग-अलग बड़ी कार्यवाही करते हुए पांच नशा कारोबारियों की गिरफ्तारी कर जेल भेजा। जिनके कब्जे से 600 ग्राम अवैध चरस तथा कच्ची शराब की भट्टी व शराब बनाने के उपकरण बरामद किए।
थाना नागल के वरिष्ठ उप-निरीक्षक राजेन्द्र गिरी, उप-निरीक्षक रोबिन राठी अपनी पुलिस टीम कांस्टेबल राजीव पंवार, भोपाल सिंह तथा विनय कुमार के साथ रात्री लगभग 10 बजे गश्त पर थे। तभी अचानक सामने से आ रहे दो युवकों को पुलिस ने पकड़ा और उनकी तलाशी ली गयी तो इनके पास अधिक मात्रा में सुल्फा देख पुलिस टीम के भी होश उड़ गये। पुलिस टीम ने इन दोनों नशा कारोबारियों नसीम पुत्र कय्यूम तथा नाजिम पुत्र कय्यूम निवासी दोनों ही ग्राम पंडौली के कब्जे से 600 ग्राम सुल्फा बरामद किया और चालान कर जेल भेज दिया।
इसके अलावा एक अन्य घटनाक्रम मे थाना नागल के वरिष्ठ उप-निरीक्षक राजेन्द्र गिरी, उप-निरीक्षक केलाश चंद शर्मा ने अपनी पुलिस टीम कांस्टेबल राजीव पंवार, गोपाल सिंह तथा विनय कुमार के साथ कल रात्री गश्त के दौरान जंगल ग्राम सोहन चिड़ा में छापेमारी कर यूरिया से बनाई जा रही कच्ची शराब एवं अवैध शराब की भट्टी सहित तीन शराब माफियाओं को गिरफ्तार किया। जबकि इनका एक साथी पुलिस की आंखों में धूल झोंककर फरार हो गया। पुलिस द्वारा पकडे गये शराब माफियाओं रामा पुत्र पीरू, करण सिंह पुत्र जम्मल दोनो ही निवासी ग्राम सोहनचिडा तथा सुरेन्द्र उर्फ पप्पू पुत्र फूल सिंह निवासी ग्राम आमकी दीपचंदपुर के कब्जे से पुलिस को अवैध शराब बनाने की भट्टी, 70 लीटर लाहन जिसे मौके पर ही नष्ट किया गया।
शराब बनाने के उपकरण एक प्लास्टिक की केन में 9 लीटर अपमिश्रित कच्ची शराब, एक ड्रम लोहे का प्लास्टिक का डिब्बा, दो किलो ग्राम यूरिया, एक परात लोहे की, एक प्लेट स्टील की बरामद कर सभी शराब माफियाओं के विरूद्ध संगीन धाराओं में कार्रवाई की गई। उधर नागल प्रभारी बीनू सिंह ने बताया कि यह पकडा-धकडी अभियान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, पुलिस अधीक्षक-ग्रामीण तथा क्षेत्राधिकारी देवबंद के निर्देश पर सख्ती के साथ जारी है।