राज्य विद्युत परिषद संगठन के कार्यकर्ताओं ने बुलंद की आवाज

सोनभद्र। विभिन्न मांगों को लेकर राज्य विद्युत परिषद जूनियर इंजीनियर्स संगठन के प्रांतीय आह्वान पर प्रस्तावित दो दिवसीय ध्यानाकर्षण सत्याग्रह आंदोलन के तहत अवर अभियंताओं ने बुधवार को राबर्ट्सगंज स्थित अधीक्षण अभियंता कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किया। अपनी मांगों को लेकर आवाज बुलंद की। प्रबंध निदेशक पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड को ट्वीट करो अभियान और ईमेल करो अभियान चलाकर माननीय मुख्यमंत्री ,ऊर्जामंत्री,अध्यक्ष यूपीपीसीएल को ट्वीट किया गया और ऊर्जा प्रबन्धन को ईमेल द्वारा ज्ञापन प्रेषित किया गया।

         यह कार्यक्रम पूर्वांचल के सभी 21 जनपदों के उच्च अधिकारी के कार्यालय पर हो रहा है। संगठन के जिला सचिव कमलेश कुमार बिंद ने कहा कि जूनियर इंजीनियर संवर्ग अपनी न्यायोचित मांगों को लेकर लंबे समय से संघर्ष कर रहा है लेकिन विभाग द्वारा अनदेखी की जा रही है। कहा कि सरकार उपभोक्ताओं को निर्बाध रूप से विद्युत आपूर्ति उपलब्ध कराने के लिए कृत संकल्पित है लेकिन बार बार अनुरोध के बाद भी प्रबंधन द्वारा संसाधनों की व्यवस्था नहीं की जा रही है। कहा कि जूनियर इंजीनियर को एटी एंड सी हानि पर पर वर्ष 2019 में निदा प्रविष्टि के प्रकरण पर तत्कालीन प्रबंध निदेशक द्वारा कार्यवृत्ति पर सहमति जताई गई थी।

 इसके बाद भी डिस्काम मुख्यालय में मुख्य अभियंता की संस्तुति के बावजूद निदा प्रवृष्टि को समाप्त करने के बजाए जूनियर इंजीनियर प्रोन्नत अभियंताओं को लगातार चक्कर लगवाया जा रहा है। चेताया कि उनकी मांगों पर सकारात्मक कार्रवाई नहीं की गई तो अगर प्रबंधन हम लोगो की बातों को अनसुना करता है तो अगला कार्यक्रम शनिवार को मुख्य अभियंता कार्यालय फतहाँ मिर्जापुर पर होगा। इस दौरान जनपद अध्यक्ष ई0 अरविंद कुमार, ई0 अम्बुज प्रजापति, ई0 सुनील कुमार, ई0 अमित कुमार गुप्ता, ई0 तीरथ राज, ई0 ब्रह्मदत्त पटेल, ई0 रामलाल, ई0 विनोद कुमार ,ई0 महेश कुमार, ई0 सतीश यादव, ई0 सद्दाम हुसैन अंसारी आदि रहे।