नेपाली हाथियों के झुंड ने किसानों की सैकड़ों एकड़ फसल को रौंदा

रेंज के घेराव की सूचना पर गांव पहुंचे वन विभाग के अधिकारी

पीलीभीत। नेपाल के गौरीफंटा सेंचुरी से पीटीआर में पहुंचे जंगली हाथियों का उत्पात थमने का नाम नहीं ले रहा है। पीटीआर से सटे गांव के किसानों की सैकड़ों एकड़ की फसल को हाथियों निरोध कर नष्ट कर दिया। वहीं वन विभाग हाथियों को खदेड़ने की औपचारिकता निभा रहा है।

मंगलवार की शाम को पीटीआर की माला रेंज के जंगल से बाहर निकले नेपाली हाथियों ने जमकर उत्पात मचाया। रेंज से सटे गांव सिरसा सरदाह, महुआ ,माला कॉलोनी के किसानों की गन्ना और धान की फसल को हाथियों ने अपने पैरों से रौंद दिया। जंगल के किनारे खेतों में जंगली हाथियों का एक महीना से उत्पात जारी है। किसानों की फसल नष्ट होने से किसान बर्बादी की कगार पर है वहीं वन विभाग हाथियों को खदेड़ने की औपचारिकता निभा रहा है। 

महुआ गांव के किसान कामरेड बाज सिंह भुल्लर राधेश्याम नोनी राम सावित्री देवी नत्थू लाल हरद्वारी लाल लीलाधर  कारज सिंह इत्यादि दर्जनों किसानों की फसल को रौंदकर पूरी तरह नष्ट कर दिया। किसानों ने ट्रैक्टरों गंधक पटाश ढोलक आदि वाद्य यंत्रों से शोर शराबा कर हाथियों को जंगल में रात एक बजे खदेड़ दिया वन विभाग की टीम मौके पर न पहुंचने से किसान आक्रोशित हो गए और उन्होंने सुबह रेंज को घेरने की बात कही रेंज के घेराव की भनक लगते ही वन सामाजिक वानिकी और टाइगर रिजर्व के कर्मचारी और अधिकारियों ने गांव में किसानों को वार्तालाप कर मुआवजा दिलाने का आश्वासन दिया जिससे किसान शांत हुए।

महुआ फार्म निवासी किसान महेंद्र सिंह ने बताया कि रात को हाथियों को भगाने के लिए पटाखों से आवाज की और शोर-शराबा किया पूरी रात हाथियों को लगाते रहे। 

भाजपा युवा मोर्चा गजरौला मंडल के मंडल अध्यक्ष केश कुमार वर्मा ने बताया की हाथियों को जंगल में खदेड़ने के लिए वन क्षेत्राधिकारी से बात हो गई है उनकी टीम लगातार हाथियों को खदेड़ने का काम कर रही है।

हीरालाल ने बताया की हाथियों ने हमारी पत्नी बर्बाद कर दी जो कर्ज लेकर हमने फसलें तैयार की थी वह पूरी तरह नष्ट हो गई अब हम किसान कर्ज को कैसे अदा करेंगे।

महेंद्र पाल प्रजापत ने बताया कि ऐसे हाथी आते रहे तो हम तो बर्बाद हो जाएंगे बेटी की शादी करने के लिए धनघटा रहे थे लेकिन आप हमारा गन्ना की फसल जंगली हाथियों ने चौपट कर दी और हम इस वर्ष बेटी के हाथ पीले नहीं कर पाएंगे।