प्रभारी मंत्री ने दिया साढ़े चार साल का दिया लेखा जोखा

गोंडा । प्रदेश सरकार के कार्यकाल के स्वर्णिम साढ़े चार वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर जनपद के प्रभारी मंत्री श्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने जनपद पहंुचकर सरकार द्वारा प्रदेश व जनपद में कराए गए विकास कार्यों एवं जनकल्याणारी योजनाओं का ब्यौरा प्रस्तुत किया।जनपद गोण्डा के चहुंमुखी विकास के लिए विभिन्न योजनाओं के माध्यम से इन साढ़े चार साल में किए गए कार्यों का विवरण प्रस्तुत करते हुए उन्होंने कहा कि जनपद में 50 हजार से अधिक किसानों को किसान सम्मान निधि का लाभ दिया जा रहा है। 2 लाख 41 हजार लोगांे का गोल्डन कार्ड बनाया जा चुका है। कार्ड धारकों ने गोल्डन कार्ड के माध्यम से लगभग 11 करोड़ रूपया का मुफ्त इलाज कराया है। जनपद के पांच वनटांगिया गावों को मुख्य धारा से जोड़ते हुए आवास, शौचालय, पेंशन, बिजली सहित सभी योजनाओं से अच्छादित किया गया। जनपद में 1530 कि0मी0 कुल लम्बाई की 402 सड़कों का निर्माण कराया गया है। वर्तमान में जिले में 321 कि0मी0 सड़क का निर्माण चल रहा है। जनपद में 22 पुलों का निर्माण लंक्षित है। जिसमें से 04 पुलों का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है तथा गढ्ढा मुक्त योजना के तहत लगभग 2 हजार कि0मी0 कुल लम्बाई की सड़कों को गढ्ढा मुक्त किया गया है।इसी प्रकार सौभाग्य योजना के तहत लगभग 4 लाख उपभोक्ताओं के घर-घर विद्युत कनेक्शन दिया गया है तथा 05 अद्द 33/11 केवी और 02 अद्द 132 केवी विद्युत उपकेंद्रों का निर्माण कराया गया। लोगों को शुद्व पेयजल मुहैया कराये जाने के लिए 165 पेयजल परियोजना संचालित है एवं स्वच्छ भारत मिशन योजना के तहत जनपद में अब तक 5 लाख 6 सौ 28 शौचालय का निर्माण कराया गया। गरीबों को रहने के लिए सरकार प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण व शहरी) के तहत जिले के 41 हजार 852 व 4 हजार 773 लाभार्थियों को आवास योजना का लाभ दिया गया है। इसी प्रकार मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत अब तक 2266 आवास  दिये गये है।खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत 6 लाख 4 हजार राशन कार्ड धारकों को कोविड महामारी के दौरान नि शुल्क खाद्यान्न मुहैया कराया गया एवं प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत अभी भी कार्डधारकों को अतिरिक्त राशन मुहैया कराया जा रहा है।  उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के निर्देशन में जिला प्रशासन द्वारा जनपद वासियों को मत्स्य पालन योजना, मुख्यमंत्री माटीकला रोजगार योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन योजना, आई0सी0डी0एस0 योजना, अटल आवासीय विद्यालय, प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना, मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना, दिव्यांग भरण-पोषण योजना, छात्रवृत्त योजना, परिवारिक लाभ योजना, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, जनधन योजना, अंत्येष्टि विकास योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण स्वरोजगार योजना, उज्जवला योजना, त्वरित आर्थिक विकास योजना, आयुष्मान योजना, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना, जननी सुरक्षा योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना सहित तमाम जन कल्याणकारी एवं विकास परक योजना में जनपद में संचालित है। प्रदेश सरकार द्वारा बिना किसी भेदभाव के जिले में चौमुखी विकास किया जा रहा है।