विधिक साक्षरता कार्यक्रमों व विधिक सेवा सप्ताह का उठाये लाभ : शिखा यादव

बहराइच । मा उ.प्र. राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, लखनऊ के निर्देशानुसार तथा अध्यक्ष/जनपद न्यायाधीश, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सुरेन्द्र प्रसाद मिश्र के निर्देश के क्रम में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, के तत्वावधान में सचिव, श्रीमती शिखा यादव के नेतृत्व में ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष अभियान के तहत विधिक साक्षरता शिविरों के माध्यम से सामान्य-जन को विधिक सहायता प्रदान की गयी। इस अभियान में जनपद मुख्यालय एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, बहराइच के अधीन तहसील विधिक सेवा समितियों सदर बहराइच, कैसरगंज, महसी, नानपारा, पयागपुर व मिहींपुरवा में तैनात पराविधिक स्वयं सेवको द्वारा अपनी सेवाएं प्रदान की गयी।

तहसील कैसरगंज में तैनात पीएलवी वीरेन्द्र सिंह द्वारा पंचायत भवन, ग्राम हरचंदा, तहसील कैसरगंज में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। पीएलवी श्री सिंह द्वारा शिविर में उपस्थित व्यक्तियों को टेली लॉ प्रोजेक्ट के बारे में बताया गया कि विधिक सहायता के इच्छुक व्यक्ति, जिन मामलों में कानूनी सलाह चाहते हैं, उन्हे टेली-लॉ पोर्टल पर पैनल वकील द्वारा विधिक सहायता प्रदान की जाती है। इसके अलावा जनसामान्य को भी विधिक सहायता प्रदान की गयी। तहसील नानपारा में तैनात पीएलवी त्रिवेणी प्रसाद चक्रवर्ती द्वारा ग्राम इमामनगर, तहसील नानपारा में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। पीएलवी श्री चक्रवर्ती द्वारा शिविर में उपस्थित व्यक्तियों को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण व तहसील विधिक सेवा समितियों द्वारा मुकदमे की पैरवी हेतु निःशुल्क अधिवक्ता प्रदान किये जाने, लोक अदालत के माध्यम से अपने लंबित वादों का आपसी सुलह-समझौते के आधार पर त्वरित निस्तारित किये जाने के बारे में जागरुक किया गया एवं विधिक सहायता प्रदान की गयी।

इसी प्रकार तहसील सदर बहराइच में पीएलवी श्रीमती शांती पाण्डेय व सुश्री सोनाली पाण्डेय द्वारा पंचायत भवन, ग्राम बनियारी में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। पराविधिक स्वयंसेवकों द्वारा शिविर में उपस्थित जनसामान्य को विधवा पेंशन, वृद्धा पेंशन, किसान सम्मान निधि योजना आदि के बारे में जागरुक किया गया एवं विधिक सहायता प्रदान की गयी। तहसील महसी के पीएलवी श्री श्रवण कुमार शुक्ला द्वारा ग्राम पंचायत चांदपारा में विधिक साक्षरता का आयोजन कर लोगों को जागरुक किया गया। पीएलवी द्वारा बताया गया कि तहसील में आरसी 9 प्रपत्र के जरिये वरासत दाखिल-खारिज करने, आय व जाति प्रमाण पत्र की आनलाइन व्यवस्था है। कृषक बीमा योजना के अंतर्गत ऐसे व्यक्ति जिनके नाम जमीन दर्ज है तथा उनकी आकस्मिक मृत्यु दुर्घटना, सर्पदंश, डूबने आदि से हो जाती है तो उन्हें तहसील स्तर से 5 लाख तक का मुआवजा प्रदान किया जाता है। इसके अतिरिक्त, जनसामान्य को अन्य आवश्यक एवं याचित विधिक सहायता प्रदान की गयी। पीएलवी श्री जयशंकर त्रिपाठी द्वारा ग्राम बरउवां, तहसील सदर में विधिक साक्षरता का आयोजन कर लोगों को जागरुक किया गया। पीएलवी द्वारा दिव्यांग पेंशन योजना, दिव्यांग प्रमाण पत्र व वरिष्ठ नागरिकों के अधिकार के अतिरिक्त लोगों को कोरोना(कोविड-19) से बचाव हेतु वैक्सीनेशन, दो गज की दूरी, मास्क का प्रयोग करने तथा समय-समय साबुन से हाथ धुलने हेतु जागरुक करते हुये इच्छुक व्यक्तियों को विधिक सहायता प्रदान की गयी।

तहसील पयागपुर में पीएलवी श्री शिवराम द्विवेदी द्वारा ग्राम पंचायत बालापुर, में विधिक साक्षरता का आयोजन कर लोगों को जागरुक किया गया। यू0पी0 मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत कोरोना काल में अनाथ हुये बच्चों को राज्य सरकार द्वारा 4,000/- रुपये की तत्काल सहायता दिये जाने विषयक जानकारी प्रदान की गयी। इसके अलावा लोगों को अन्य विधिक सहायता भी प्रदान की गयी। पीएलवी श्री अनूप कुमार तिवारी द्वारा ग्राम लालपुर, तहसील पयागपुर में विधिक साक्षरता का आयोजन कर लोगों को जागरुक किया गया। लीगल एड मोबाइल एप व उस पर उपलब्ध लीगल एड आनलाइन की सेवाओं के विषय पर विधिक जागरुक करते हुये बताया गया कि घर बैठे लीगल एड मोबाइल एप पर विधिक सहायता, पीड़ित क्षतिपूर्ति व मध्यस्थता हेतु प्रार्थना पत्र दे सकते हैं। पीएलवी श्री मनोज मौर्या द्वारा पंचायत भवन ग्राम कारीकोट में सूचना का अधिकार, बाढ़ पीड़ितों, श्रमिकों आदि विषय पर साक्षरता शिविर के माध्यम से जागरुक किया। साथ ही शिविर में उपस्थित व्यक्तियों को विधिक सहायता प्रदान करायी।

इसके अतिरिक्त श्री आशीष कुमार यादव, सुश्री ऊषा देवी, राजकुमार तिवारी, ननकऊ विश्वकर्मा, बृजेश नारायण मिश्र, हिमांशु श्रीवास्तव, विजय कुमार, विनय कुमार शुक्ला, राकेश कुमार, राघवेन्द्र नाथ त्रिपाठी, मनीष कुमार, नौशाद अहमद, रक्षाराम मिश्र, अवधेश द्विवेदी, रामनिवास, आनन्द सिंह वर्मा आदि पीएलवीगण ने ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष अभियान के तहत जनसामान्य को विधिक जागरुकता के माध्यम से विधिक सहायता प्रदान की तथा जनमानस को वीडियो एवं फोटोग्राफ्स के माध्यम से मा0 राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, नई दिल्ली, उ0प्र राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, लखनऊ, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण एवं तहसील विधिक सेवा समिति द्वारा दी जाने वाली निःशुल्क सेवाओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी गयी। साथ ही समस्त को आजादी के अमृत महोत्सव के तहत दिनांक 02.10.2021 से 14.11.2021 तक चलायी जा रही विधिक सेवाओं के विशेष अभियान व दिनांक 08.11.2021 से 14.11.2021 तक मनाये जाने वाले विधिक सेवा सप्ताह के विषय में बताया गया और समस्त उपस्थित से आवाह्न किया गया कि इस अमृत महोत्सव में बढ़-चढ़कर सहभाग करें तथा इसका अधिकाधिक लाभ प्राप्त करें।