मऊ जनपद में एच्छिक ब्यूरो के प्रयाश से 32 मामलों में से 10 मामलों का हुआ निस्तारण, एक दंपत्ती साथ रहने को हुये राजी

मऊ जनपद में महिला एच्छिक ब्यूरों की बैठक पुलिस लाइन में पुलिस अधीक्षक मऊ श्री सुशील घुले के निर्देशन में तथा क्षेत्राधिकारी मधुबन श्री अमित सिंह के पर्यवेक्षण में हुयी इसमें कुल 32 मामलें आये, जिसमें एच्छिक ब्यूरों के सदस्यों के प्रयाश से चन्द्रकला तथा छोटु आपासी मतभेद भूलाकर साथ रहने को राजी हुये, वही सलमा खातुन व सईद के मामलें मे मुकदमा कोर्ट में चल रहा है सलमा चाहती है पति सईद उसे परेषान न करे अतः पति सईद को सख्त मना किया गया तथा दोनो की मर्जी से फाइल को बन्द किया गया। रीता देवी, रामविलाष, व प्रियंका, अंगद के मामलों के प्रार्थी के मर्जी से फाइल बन्द किया, गुड़िया जायसवाल व सुनित जायसवाल के मामलों में अभियोग के लिए फाइल भेजी गयी। चार मामले कोर्ट में विचाराधीन होने के कारण बन्द किये गये। अन्य मामलों में प्रार्थीनी के गैर हाजिरी के कारण बन्द किये गये। बैठक में एच्छिक ब्यूरो के सदस्य सर्वेश दूबे, अर्चन उपाध्याय, मौलवी अरशद, उ0नि0 विन्धवासिनी रानी पाण्डेय, महिला आरक्षी सोनी सिंह, महिला आरक्षी प्रीती दुबे उपस्थित रही।