मनोज पाटिल आत्महत्या कोशिश मामले में साहिल खान समेत 3 लोगो के खिलाफ दर्ज हुआ केस

मिस्टर इंडिया और प्रोफेशनल एथलिट मनोज पाटिल ने आत्महत्या करने की कोशिश की, जिसके बाद सभी ये खबर सुनकर हैरान रह गए। इस खबर के सामने आते ही बॉलीवुड एक्टर साहिल खान का नाम विवादों में आ गया। दरअसल, मनोज पाटिल ने कुछ दिन पहले ही खुलेआम साहिल खान पर कई आरोप लगाए थे। वही खुदकुशी की कोशिश से पहले उन्होंने एक लेटर भी लिखा था जिसमे उन्होंने साहिल खान को इसका जिम्मेदार ठहराया था। 

अब ये मामला पुलिस तक पहुंच गया है। साहिल खान सहित तीन लोगों के खिलाफ मनोज पाटिल को कथित रूप से उकसाने के आरोप में मामला दर्ज किया गया है। बता दें कि बॉडी बिल्डर मनोज पाटिल की आत्महत्या करने की कोशिश के बाद उन्हें कूपर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अभी तक की रिपोर्ट के मुताबिक मनोज की हालात स्थिर है, वो खतरे से बाहर हैं। मनोज के परिजनों का आरोप है कि उन्होंने आत्महत्या का कदम इसलिए उठाया कि वो साहिल खान से बुरी तरह परेशान थे। रिपोर्ट्स के मुताबिक मनोज पाटिल ने साहिल खान पर परेशान करने के आरोप लगाए थे, उन्होंने इस वजह से थाने में साहिल खान के खिलाफ रिपोर्ट भी दर्ज करवाई थी। अपने सुसाइड नोट में मनोज पाटिल ने लिखा कि साहिल की प्रताड़ना और बदनामी के चलते वो ये कदम उठा रहे हैं। वही, साहिल खान ने इस मामले में चुप्पी तोड़ी है। उन्होंने इसे पब्लिसिटी स्टंट करार दिया है। साहिल खान ने अपने एक इंटरव्यू में इस पूरे मामले में अपना पक्ष रखा है और कहा कि उन्होंने सिर्फ पीड़ित की मदद की है और इसके बावजूद पाटिल सिर्फ उनका नाम ले रहे हैं। जबकि फौजदार मामले का कोई जिक्र ही नहीं है। साहिल ने अपने एक इंटरव्यू में कहा, मैं सोशल नेटवर्किंग साइट के जरिए राज फौजदार नाम के एक लड़के से मिला था। वह दिल्ली का रहने वाला है। उसने एक वीडियो बनाया था कि मनोज पाटिल ने उससे 2 लाख रुपये लिए और उसे एक्सपायर्ड स्टेरॉयड बेचा। इसके बाद उसे दिल और त्वचा की समस्याएं पैदा हो गई। उन्होंने कहा कि फौजदार के पास लेनदेन के सभी बिल और रसीदें हैं। फौजदार इस मामले में सोशल मीडिया का समर्थन चाहते थे और इसीलिए मैंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर वीडियो शेयर कर दूसरों से उनका समर्थन करने की अपील की थी।

साहिल ने कहा, मैंने कहा था कि स्टेरॉयड रैकेट बंद होना चाहिए। फौजदार का कहना था कि मनोज पाटिल उसका पैसा नहीं लौटा रहा है। फौजदार ने पैसे की व्यवस्था के लिए अपनी मोटरसाइकिल तक बेच दी थी। उन्होंने कहा कि मुझे हैरानी है कि पाटिल ने अपने सुसाइड नोट में राज का नाम नहीं लिया और न ही इस पूरे मामले का जिक्र किया। मैंने सिर्फ उस लड़के का सपोर्ट किया है और स्टेरॉयड बेचने के खिलाफ खड़ा हुआ हूं क्योंकि यह हमारे देश में एक अपराध है। अगर वह लड़का एक्सपायर्ड स्टेरॉयड लेने के बाद मर गया होता तो क्या होता? उन्होंने कहा कि यह एक स्टंट हो सकता है। इस मामले में मेरा कोई सीधा संबंध नहीं है।