टी-20 के बाद रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की कप्तानी भी छोड़ सकते विराट


विराट कोहली आरसीबी की पिछले 8 सालों से कप्तानी कर रहे हैं और अबतक एक बार भी टीम को चैंपियन नहीं बना सके हैं। जिसको लेकर हर साल टूर्नामेंट के बाद उनकी जमकर आलोचना होती है। 19 सिंतबर से यूएई में शुरू हो रहे आईपीएल 2021 के दूसरे फेज में विराट अपने ऊपर लगे इस दाग को धोने की कोशिश करेंगे। कोहली के कोच राजकुमार शर्मा ने कहा, 'जहां तक आईसीसी टूर्नामेंट को ना जीतने की बात है तो मुझे नहीं लगता कि उनके रिकॉर्ड्स को देखते हुए यह कोई बड़ा टैग है, वह सबसे सफल कप्तान में से एक हैं और मैं तीनों ही फॉर्मेट की बात कर रहा हूं। तो आप एक कप्तान को इस बात पर जज नहीं कर सकते हैं कि उसने कितनी आईसीसी ट्रॉफी जीती है। उनके रिकॉर्ड्स बताते हैं कि उन्होंने बतौर कप्तान और खिलाड़ी देश के लिए क्या किया है।' राजकुमार शर्मा ने कहा कि कोहली एक समय के बाद आरसीबी की कप्तानी भी छोड़ सकते हैं। उन्होंने कहा, 'जहां तक आईपीएल की बात है तो, मुझे लगता है कि आरसीबी की कप्तानी भी एक वक्त पर छोड़ देंगे और फ्रेंचाइजी के लिए एक बल्लेबाज के तौर पर खेलेंगे। यह उनके लिए बेहतर होगा और विराट टीम इंडिया के लिए वनडे और टेस्ट क्रिकेट में ज्यादा फोकस होकर खेल पाएंगे।'

विराट के टी-20 कप्तानी छोड़ने के फैसले को बचपन के कोच ने सही बताया उन्होंने कहा, 'नया कप्तान नई रणनीतियां और नए आईडिया लाएगा, इसलिए यह देखना दिलचस्प होगा कि किसे कप्तान बनाया जाता है। जैसे धोनी ने किया विराट कोहली भी वैसे ही भूमिका निभाना पंसद करेंगे और नए कप्तान की मदद करेंगे।' उन्होंने आगे कहा कि विराट अब अधिक इच्छाशक्ति और दृढ़ता के साथ टी-20 वर्ल्ड कप जीतना चाहेंगे क्योंकि वो टी-20 कप्तानी को उच्च स्तर पर छोड़ना चाहेंगे। यह एक अच्छा और सूझबूझ वाला फैसला है। उन्होंने इस बारे में मुझसे भी चर्चा की थी।