बोर्ड की अंक सुधार परीक्षा 18 सितम्बर से 06 अक्टूबर तक आयोजित होगी -डीएम


गोंडा । जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही ने माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा आयोजित अंक सुधार परीक्षा 2021 को पूरी शुचिता के साथ सम्पन्न कराने के आदेश दिए हैं। कलेक्ट्रेट सभागार में परीक्षा केंद्रों के केंद्र व्यवस्थापकों, स्टेटिक, सेक्टर एवं जोनल मजिस्ट्रेटों के साथ बैठक सम्पन्न हुई।बैठक में डीएम ने स्पष्ट किया कि अंक सुधार परीक्षा मानकों एवं नियमों के अनुसार पूरी पारदर्शिता के सम्पन्न कराई जाय। उन्होंने बताया कि बोर्ड परीक्षा जनपद में कुल 10 परीक्षा केन्द्रों पर शनिवार 18 सितम्बर से 06 अक्टूबर तक आयोजित होगी। इस परीक्षा में हाईस्कूल के 338 एवं इण्टरमीडिएट के 585 छात्र सम्मिलित होगें।बैठक के दौरान जिला विद्यालय निरीक्षक द्वारा अवगत कराया गया कि परीक्षा हेतु निर्धारित समस्त परीक्षा केन्द्रों में 10 वाह्य केन्द्र व्यवस्थापक, 10 पर्यवेक्षक, 04 सचल दल, 45 स्टेटिक मजिस्ट्रेट, 10 सेक्टर मजिस्ट्रेट तथा 04 जोनल मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई है। सभी परीक्षा केन्द्रों को जिला स्तरीय कण्ट्रोल रूम से व राज्य स्तरीय कण्ट्रोल रूम से जोड़ा जा चुका है ।तथा कण्ट्रोल रूम में पर्यवेक्षण हेतु नोडल व पाली वार प्रभारी अधिकारियों की तैनाती की गई है।संवेदनशील व अतिसंवेदनशील परीक्षा केंद्रों पर वाइस रिकार्डर युक्त सीसीटीवी फुटेज व रिकॉर्डिंग के साथ राउटर डिवाइस के क्रियाशील होने की जांच निश्चित रूप से की जाय। परीक्षा केन्द्रों पर तैनात केन्द्र व्यवस्थापक, वाह्य केंद्र व्यवस्थापक पूरी परीक्षा अवधि की वायस रिकार्डर युक्त सीसीटीवी फुटेज एवं रिकार्डिंग सुरक्षित रखने के साथ ही राउटर डिवाइस को क्रियाशील रखेंगें और निरीक्षण अधिकारी को परीक्षा अवधि से अवगत करायेगें। परीक्षा के दौरान परीक्षा में नकल आदि की शिकायत राज्य स्तर पर टोल फ्री नम्बर 18001805310 एवं 18001805312 तथा व्हाट्सएप नम्बर 9415866899 पर की जा सकती है। जनपद स्तर पर 05262-356882 इस नम्बर पर शिकायत दर्ज करायी जा सकती है। उन्होंने निर्देशित किया कि कंट्रोल रूम के प्रभारी प्राप्त शिकायत पर की गयी कार्यवाही का भी अंकन करेेंगें तथा प्रत्येक काल का अंकन एक रजिस्टर पर किया जाय।

  बैठक में मुख्य विकास अधिकारी शशांक त्रिपाठी, डीआईओएस राकेश कुमार, बीएसए, सभी एसडीएम व पुलिस क्षेत्राधिकारीगण, सेक्टर, जोनल व स्टेटिक मजिस्ट्रेट्स एवं केन्द्रों व्यवस्थापक व प्रबन्धक उपस्थित रहे।