देवी मंदिर में किया शस्त्रों का पूजन

आजमगढ़। नागपंचमी के अवसर पर श्रीजगदीश जी हनुमान दल अखाड़ा पुरानी कोतवाली का शस्त्र पूजन शनिवार को चौक स्थित देवी मंदिर में संपन्न हुआ। इसके पूर्व अखाड़े के लोगों ने शस्त्रों का प्रदर्शन किया। शस्त्र पूजन के दौरान लगाए जा रहे जयकारे से पूरा मंदिर परिसर गूंजता रहा। नागपंचमी पर चौक स्थित देवी मंदिर में धूमधाम से अखाड़े के कार्यकर्ता जयघोष करते हुए पहुंचे। सबसे आगे महावीरी झंडा और बैंडबाजों के साथ अखाड़े के प्रदर्शन के दौरान प्रयोग किए जाने वाली प्राचीन-अस्त्र-शस्त्र और थालों में सजे प्रसाद लेकर पूरे उत्साह के साथ देवी मंदिर में हवन-पूजा के बाद शस्त्र पूजन किया गया। 

अखाड़े के प्रबंधक विभाष सिन्हा ने बताया कि यह जनपद की प्राचीन परंपरा है। इसके साथ ही अखाड़े के कलाकार विजयादशमी के अवसर होने वाले अखाड़ों के मुकाबले की तैयारी में जूट जाएंगे। इस दौरान कलाकार प्राचीन काल के युद्धों में प्रयोग किए जाने वाले अस्त्र-त्रस्त जिसमें मुख्य रूप से बाना, बनेठी, गत्ताफरी, सच्चा बाना, पटा, तलवार, ढाल, गड़ासे जैसे शस्त्रों का अभ्यास करेंगे। इसका प्रदर्शन नवरात्र शुरू होते ही प्रारंभ हो जाता है। मुख्य मुकाबला शहर में निकलने वाले एक अन्य अखाड़े के साथ विजयादशमी के दिन संपन्न होता है। इस अवसर पर श्री जगदीश जी हनुमान दल अखाड़ा के प्रबंधक विभाष सिन्हा, सुरेश जायसवाल, संतोष नेता, जय प्रकाश, सुरेश केसरी, श्रवण, त्रिलोकी, अशोक, भोला, नरेश, सेनू, गौतम, राजेश, मुन्ना, आलोक, रामानंद, अजय, दीपक आदि मौजूद थे।