बजरंग दल द्वारा मनाया गया अखण्ड संकल्प दिवस

आजमगढ़ : विश्व हिंदू परिषद के युवा शाखा बजरंग दल द्वारा 14 अगस्त को प्रत्येक वर्ष अखंड भारत संकल्प दिवस के रूप में मनाया जाता है इसी क्रम में 14 अगस्त की पूर्व संध्या पर आज़मगढ़ नगर के अग्रवाल धर्मशाला में बजरंग दल आर्यमगढ़ इकाई द्वारा अखंड भारत संकल्प दिवस कार्यक्रम मनाया गया। 

कार्यक्रम का प्रारंभ गोष्ठी से किया गया जिसमें बतौर मुख्य वक्ता विहिप गोरक्ष प्रान्त के प्रान्त उपाध्यक्ष श्री ओंकार शर्मा ने कहा कि 14 अगस्त 1947 को कुछ नेताओं ने तुष्टिकरण की राजनीति के चलते धार्मिक आधार पर देश का विभाजन कर दिया जिसमें हमारा 29 प्रतिशत भूभाग हमसे अलग कर दिया गया । वह केवल भूभाग ही नही हमारी अमूल्य सांस्कृतिक विरासत भी थी ।

ढाकेश्वरी देवी व हिंगलाज माता मंदिर समेत हमारे 52 में से 8 शक्तिपीठ अलग हो गए महर्षि पाणिनि की जन्मभूमि, गुरुनानक जी की जन्मभूमि,कटासराज का सरोवर,शंकराचार्य जी की शारदा पीठ, राम जी के पुत्र लव द्वारा बसाया गया शहर लाहौर,कुश जी द्वारा बसाया कुसूर सब कुछ हमसे अलग हो गया और विभाजन के दंश ने 2 करोड़ लोगों को बेघर कर दिया 8 लाख से अधिक हिन्दू मारे गए हमारा देश 15 अगस्त को स्वतंत्र तो अवश्य हुआ किन्तु किस कीमत पर हुआ ये भी देश के युवाओं को सदैव स्मरण रखना चाहिए ।

कार्यक्रम की अध्यक्षता विभाग अध्यक्ष श्री अशोक अग्रवाल ने की एवं संचालन बजरंगदल के नगर संयोजक हिमांशु राज ने किया। कार्यकर्ता गोलू निषाद द्वारा अखण्ड भारत माता की अनुपम रंगोली बनाई गयी जिसपर सभी कार्यकर्ताओं ने दी प्रज्ज्वलित किये। 

बजरंगदल आर्यमगढ़ के जिला विद्यार्थी संपर्क प्रमुख शशांक तिवारी ने सभी कार्यकर्ताओं को पुनः अखण्ड भारत बनाने का संकल्प दिलाया और वन्दे मातरम गान के साथ कार्यक्रम सम्पन्न हुआ।

इस अवसर पर गुरमीत कौर,रंजना सोनकर,दीनानाथ सिंह,आशीष गोयल,गौरव सिंह रघुवंशी,संतोष गुप्ता,अरविंद अग्रवाल,चन्दन सिंह,अरविंद मोदनवाल,नीरज अग्रवाल,, मनोज सिंह,राघवेंद्र मिश्रा,सूरज निषाद,अभी निषाद,विमल,मिथुन निषाद,अभिषेक गुप्ता,हर्ष गुप्ता,रवि निषाद,बादल कुमार,अम्बुज कुमार,हिमांशु चौरसिया इत्यादि कार्यकर्ता सम्मिलित हुए।