भविष्य के लिए प्रेरणा

राकेश श्रीवास्तव 

टोक्यो में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए पहली बार ओलंपिक  सेमीफाइनल में पहुंची भारत की महिला हॉकी टीम के हाथ से बहुत करीब आकर कांस्य पदक फिसल गया।टोक्यो ओलंपिक 2020 के 15वे दिन बेहद तनावपूर्ण मूकाबला ब्रिटेन ने 4--3 से जीता।रानी रामपाल के नेतृत्व मे बहादुर लडकियां पदक लाने मे भले सफल न हो सकीं पर भारतीय खेल के इतिहास मे इनका नाम अमिट स्याही से लिख गया है।भारत जब भी पदक जीतेगा इस बहादुर टीम का योगदान सम्मान के साथ लिया जायेगा।इसने जो भूख पैदा कर दी है उसकी प्रेरणा से बहुत से चैम्पियन पैदा होंगे।इन बेटियों पर देश को गर्व है।रानी रामपाल,सविता पूनिया,गुरजीत कौर,निशा,सलीमा टेटे,दीप ग्रेस एक्का,वन्दना कटारिया,मोनिका मालिक,सुशीला चानू,लालरेमसियामी और भारतीय टीम की अन्य खिलाड़ियों ने अपने शानदार प्रदर्शन से सबका दिल मे जगह बना ली।इसके साथ ही नाम लिया जायगा उडीसा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक का जिनके दूरदर्शिता पूर्ण निर्णय से उडीसा हाकी टीम का स्पांसर बना। 

आज 2-0 की लीड देने के बाद टीम इंडिया ने कमाल की वापसी करते हुए दूसरे क्वार्टर में चार मिनट के अंदर तीन गोल कर के 3-2 की बढत ले ली।टीम के लिए गुरजीत ने 25वें और 26वें मिनट में और वंदना कटारिया ने 29वें मिनट में गोल किया।लेकिन ब्रिटिश टीम ने तीसरे सत्र में लगातार आक्रमण करते हुए ही पाँच मिनट मे गोल कर स्कोर 3-3 कर लिया। 

ब्रिटेन ने अंतिम क्वार्टर के 7वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर से गोल कर 3-4 की बढ़त बना ली जिसे कुछ श्रेष्ठ प्रयासों के बाद भी भारत भेद नहीं सका और कांस्य पदक पर ब्रिटेन का नाम लिख गया।

टोक्यो ओलंपिक मे भारत की 23 वर्षीय महिला गोल्फर अदिति अशोक गोल्फ में भारत के लिए नया इतिहास रचने की राह पर हैं।वह गोल्फ मे देश के पहले मेडल की दावेदार बनी हुई हैं।अदिति ने तीसरे दौर में तीन अंडर 67 स्कोर करते हुए दूसरी पोजीशन बनाए रखी है।अमेरिका की नैली कोरडा दो अंडर 69 स्कोर के साथ उनसे 3 स्ट्रोक्स आगे हैं।अदिति का यह दूसरा ओलंपिक है।वो रियो डि जनेरियो ओलंपिक 2016 में 41वें स्थान पर थीं।भारत की ही दीक्षा डागर 51वे स्थान पर हैं। 

टोक्यो ओलंपिक्स के 15 वें दिन पदक की तलाश मे बजरंग पूनिया ने पहले मुकाबले में किर्गिस्तान के अर्नाजार अकमातालिएव को हराकर 65 किलो कुश्ती के अगले दोर में प्रवेश किया।क्वार्टर फाइनल में पूनिया ने ईरान के मोर्तेजा गैसी से पिछड़ने के बाद आखिरी मिनट में मोर्तेजा को पटक शानदार जीत हासिल की।लेकिन सेमीफाइनल मे तीन बार के वर्ल्ड चैम्पियन,रियो ओलिंपिक के कांस्य पदक विजेता अज़रबैजान के हाजी एलियेव ने बजरंग को 12-5 से हराया।गोल्ड मेडल के प्रबल दावेदार बजरंग के पास अब कांस्य पदक जीतने का मौका है। 

लेकिन महिला रेसलर सीमा बिस्ला का टोक्यो ओलंपिक का सफर  प्री-क्वार्टर मुकाबले मे हारने से समाप्त हो गया। 

महिलाओं की 20 किमी चाल मे प्रियंका शुरू के दौर मे लीडिंग पैक मे प्रथम पांच मे बनी रहीं। पर रेस पूरी होने पर भारत की प्रियंका गोस्वामी 1:32:36 टाइमिंग के साथ 17वें और भावना जाट 1:37:38 टाइमिंग के साथ 32वीं पोजिशन पर रहीं। वहीं 

भारतीय एथलीट गुरप्रीत सिंह पुरुषों के 50 किमी पैदल चाल स्पर्धा में अपनी रेस पूरी नहीं कर सके और वह बाहर हो गए। उन्होंने करीब 35 किलोमीटर तक रेस में दौड़ लगाई। 25 किमी तक वह 2:01:54 समय के साथ 49वें स्थान पर थे। 

आज पुरुष 4.400मीटर रिले रेस का हीट मुकाबला भी होना है। 

कल अदिति और नीरज चोपड़ा पदक के प्रबल दावेदार होंगे। भारतीय खिलाड़ियों के लिए दुआ के साथ