एसीएस होमगार्ड पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप, जाँच की मांग

लखनऊ। अमिताभ ठाकुर तथा डॉ नूतन ठाकुर ने होमगार्ड विभाग, उत्तर प्रदेश के एसीएस अनिल कुमार पर भारी भ्रष्टाचार की शिकायत की जाँच की मांग की है। सीएम योगी आदित्यनाथ सहित अन्य को भेजी शिकायत में उन्होंने कहा कि उन्हें प्राप्त एक गुमनाम शिकायत के अनुसार एसीएस अनिल कुमार ने होमगार्ड विभाग में एक दागी अफसर को सतर्कता अधिकारी बनाया है. इसी प्रकार नॉएडा फर्जी ड्यूटी कांड में आरोपी राम नारायण चौरसिया तथा गिरिराज सिंह एवं अवैध संपत्ति की जाँच सहित अन्य गंभीर आरोपों के आरोपी ए पी सिंह तथा गिरीश कटियार को जाँच प्रचलित होने के बाद भी नियमों के खिलाफ पदोन्नत करते हुए उन्हें मलाईदार तैनाती दी। के एच मिश्रा, चन्द्र मोहन मिश्रा तथा दिलीप यादव को बिना विकल्प दिए ही नियम के विपरीत अच्छी तैनाती दी गयी. अनिवार्य सेवानिवृति के लिए संस्तुति किये गए रणजीत सिंह को तथ्यों को छिपा कर नियमों को दरकिनार कर पदोन्नति व अच्छी तैनाती दी गयी। अनिल कुमार ने शासन द्वारा सम्बद्धता पर रोक लगाने के बाद भी इंस्पेक्टर, सब-इंस्पेक्टर, हवालदार, बाबू, चपरासी, कुक, कहार आदि लगभग 1000 कर्मचारियों को अवैध ढंग से सम्बद्ध कर रखा है जिसके लिए मनमानी वसूली होती है। अमिताभ तथा नूतन ने इन्हें अत्यंत गंभीर आरोप बताते हुए उच्चस्तरीय जाँच कराते हुए कार्यवाही की मांग की है।