मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह की बढ़ी मुश्किलें, जारी किया गया लुकआउट सर्कुलर

मुंबई: मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त और होमगार्ड के मौजूदा महानिदेशक परमबीर सिंह और अन्य के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी किया गया है. परमबीर सिंह सहित 28 लोगों के खिलाफ ठाणे नगर पुलिस थाने में जबरन वसूली का मामला दर्ज है. उसी में उनके खिलाफ यह सर्कुलर जारी किया गया है. ठाणे के पुलिस कमिश्नर जय जीत सिंह ने मीडिया को यह जानकारी दी है.

यह मामला साल 2018 से फरवरी 2019 के बीच 1.25 करोड़ रुपये की वसूली से जुड़ा है. उस वक्त परमबीर सिंह ठाणे के पुलिस आयुक्त थे. ठाणे पुलिस कमिश्नर ने बताया कि 30 जुलाई को कारोबारी केतन तन्ना की शिकायत पर परमबीर सिंह और 27 अन्य के खिलाफ ठाणे नगर थाने में जबरन वसूली का केस दर्ज किया गया था. इसी मामले में लुकआउट नोटिस जारी किया गया है. 

आरोप है कि पुलिस ने गैंगस्टर रवि पुजारी के साथ मिलकर फर्जी मामला बनाया और उसके बाद कार्रवाई ना करने, आरोपों से नाम निकालने के लिए केतन तन्ना से 1 करोड़ 25 लाख, सोनू जालान से 3 करोड़ 45 लाख रुपये और किरण माला से 1 करोड़ 50 लाख रुपये वसूले.

इस मामले में एक और शख्स रियाज भाटी का भी बयान दर्ज हुआ है, जिसके जरिये संजय पुनमिया ने डेढ़ करोड़ लेकर परमबीर सिंह के जरिये नाम निकलवाने का वादा किया था. रियाज भाटी ने बयान दिया है कि संजय पुनमिया ने उनके सामने परमबीर सिंह से फोन पर बात की और परमबीर सिंह ने प्रदीप शर्मा से मिलने को कहा था. परमबीर सिंह के खिलाफ जुलाई महीने ये तीसरा मामला दर्ज हुआ था. मुंबई के पुलिस कमिश्नर पद से हटाए जाने के बाद सिंह ने राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख पर उगाही के आरोप लगाए थे, जिसके बाद उन्हें पद से इस्तीफा देना पड़ा था.