केन और यमुना की बाढ़ में ब्रेक, जलस्तर घटा

बांदा। केन और यमुना की बाढ़ में लगातार कमी आ रही है। नदियों के जलस्तर घटने का सिलसिला गुरुवार को दूसरे दिन भी जारी रहा। दोनों नदियों का जलस्तर सुस्त रफ्तार से घट रहा है। 24 घंटे में केन 32 सेंटीमीटर और यमुना 6 सेंटीमीटर घटी है। हालांकि अभी भी दर्जनों गांवों में पानी भरा हुआ है। उधर, गंगऊ बांध के डिस्चार्ज में भी काफी कमी आई है। यह घटकर 47470 क्यूसिक पर आ गया। मंगलवार को यहां 79670 पानी डिस्चार्ज हो रहा था। केंद्रीय जल आयोग (बाढ़ एवं पूर्वानुमान विभाग) के मुताबिक बांदा में केन नदी 102.19 मीटर पैमाने पर बह रही थी। चिल्ला घाट में यमुना 101.05 मीटर पर रही। दोनों नदियों में क्रमशः 32 व 6 सेंटीमीटर की कमी आई है। गंगऊ बांध के अवर अभियंता वेद प्रकाश ने बताया कि गुरुवार की शाम गंगऊ का जलस्तर 735.5 फिट पर था। डिस्चार्ज घटकर 32200 क्यूसिक हो गया है। बताया कि जलस्तर में लगातार कमी आ रही है।उधर, बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों में प्रशासन और राजनीतिक दलों द्वारा राहत सामग्री पहुंचाई जा रही है। गुरुवार को तिंदवारी विधानसभा क्षेत्र के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में सपा जिलाध्यक्ष विजय करन यादव सहित अशोक सिंह गौर, विद्या सागर तिवारी, अशोक श्रीवास आदि ने नाव से बाढ़ पीड़ित गांव में जाकर सामग्री बांटी। पूर्व जिला पंचायत सदस्य दीपा सिंह गौर ने बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों में लोगों को मदद का भरोसा दिलाया।