हम राजनीति की नहीं, जाति की बात करने आए हैं-अनिल

जखनियां/गाज़ीपुर।क्षेत्र के माता तेतरा देवी सच्चिदानन्द गर्ल्स डिग्री कालेज अलीपुर मदरा में  महाराजा सुहेलदेव राजभर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसके मुख्यअतिथि उ०प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री माननीय अनिल राजभर रहे। सबसे पहले माननीय मुख्य अतिथि महोदय ने डा०श्यामा प्रसाद मुखर्जी और पं०दीनदयाल उपाध्याय के चित्र पर दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया। विचार गोष्ठी को संबोधित करते हुए कहा की आज हम मंच से राजनीति नहीं अपितु जाति की बातें अपने लोगों से साझा करने आए हैं। केंद्र व राज्य की मोदी और जोगी की सरकार ने राजभर समाज के मान-सम्मान का जितना ख्याल रखा उतना आजाद भारत में किसी दल या अन्य लोगों ने नहीं रखा।राजभर विरादरी के सिर मौर्य प्रतापी राजा सुहेल देव पर प्रकाश डालते हुए कहा कि

18वर्ष के सुहेलदेव को गद्दी मिली और देश में उनके शासनकाल में आक्रमण कारियो के छक्के छूट गए।जिसने जिस मुस्लिम शासको  दुम दबाने के लिए बाध्य किया आज अपनी ही विरादरी के ठेकेदारों द्वारा राजभर जाति को गुमराह कर अपने स्वार्थ की रोटियां सेकी जा रही है ।जिसके चलते हमारा  राजभर समाज विकास की मुख्यधारा से कोसों दूर छूटता चला गया।विरादरी के नेता व राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर की कलई खोलते हुए प्राइवेट लिमिटेड कंपनी बताया। कहा की आज समाज  के प्रति किसी फिक्रमंद लगने लगे हैं।और महाराजा सुहेलदेव देव के स्वाभिमान की बात करने लगे हैं ।चोट करते हुए कहा कि जिस‌दिन औबैसी के साथ जाकर हमारे महाराजा के दुश्मन गाजी मियां की मजार पर चादर चढ़ाया उस दिन राजा सुहेल देव की आत्मा को लगने वाली चोट का ख्याल ‌नही आया। 

अभी हाल ही में बसपा से निकाले गए बिरादरी के दिग्गज नेताओं पर प्रहार करते हुए कहा कि आज उन सबको बिरादरी की सुधि और उनके हक और अधिकार के बाद करने लगे हैं कई बार सत्ता में रहने के बावजूद कुछ नहीं कर पाए आज फिर राजभर समाज को गुमराह कर अपना उल्लू सीधा करना चाहते हैं राजभर बिरादरी का स्वाभिमान जगाते हुए कहा मेरे बिरादरी के लोगों जागो पीछे मुड़कर देखो ठेकेदारों के चंगुल में फंसकर तुम कितना दूर छूट गए विकास से वंचित रह गए शर्म की बात तो यहां तक है कि आजाद भारत के 75 साल में एक भी आईएएस पीसीएस अधिकारी हम नहीं दे पाए ।विरादरी में  जातिगत भावनाओं का बीज खूब ढंग से बोया। तथा जिस जाति धर्म में जन्म लिया कर्तव्य मार्ग पर डट जाएं के मूल मंत्र से सींचा। बिखरते समाज को संगठित करते हुए कहा चुनाव नजदीक है जिसके तहत राजनीति की बात करनी पड़ेगी।

गाजीपुर के भाइयों याद करो हम महाराज सुहेलदेव के वंशज हैं वह हमारे धमनियों में उस प्रतापी सम्राट का रक्त संचालित हो रहा है जिस सुहेलदेव की तलवार चली तो  अफगान सहित मुगलों को पीछे हटना पड़ा।आज इतिहास गवाह है सुहेलदेव देव के प्रताप का। तक देश के तरफ कोई दुश्मन नही आ सका।भारत जैसे देश के प्रधानमंत्री मोदी का नाम लेने मे  बड़ा सम्मान और गर्व की अनुभूति होती है।इस मौके पर अटल सिंह मुराहू राजभर दया शंकर सिंह, अवधेश राजभर लालसा राजभर प्रमोद वर्मा आदि लोग उपस्थित थे कार्यक्रम का संचालन राजेश भारद्वाज ने किया।