एलन मस्क ने सैलरी के बिना भी की 6.7 बिलियन डाॅलर की कमाई

नहीं दिल्ली : अमेरिका की दिग्गज कंपनी टेस्ला और उनके सीईओ एलन मस्क हमेशा अपने बयान और नए-नए ट्वीट को लेकर सुर्खियां बटोरते रहते हैं। आखिर कौन बिटक्वाइन निवेशक एलन मस्क के उस ट्वीट को भूल सकता है जिसके बाद सभी क्रिप्टोकरेंसी की कीमतों में अचानक गिरावट देखी गई थी। एलन मस्क सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं। वह एक बार फिर चर्चा में हैं। टेस्ला की तरफ से जारी किए गए बयान में कहा गया है कि साल 2020 में एलन मस्क ने कोई सैलरी नहीं लिया है, इसके बावजूद वह अमेरिका के सबसे ज्यादा पैसा कमाने वाले सीईओ हैं। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार साल 2020 में टेस्ला के सीईओ को कंपनसेशन के तौर पर 6.7 बिलियन डाॅलर का भुगतान किया गया है। जोकि Oak Street Health के सीईओ से 11 गुना अधिक है।

अमेरिका की इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) कंपनी टेस्ला भारत में मैन्युफैक्चरिंग प्लांट लगा सकती है। इसके संकेत टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने दिए हैं। आपको बता दें कि केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने टेस्ला को भारत में प्लांट लगाने की सलाह दी थी। इसके साथ ही उन्होंने भारत में आने के फायदे गिनाए थे।

टेस्ला के सीईओ एलन मस्क से ट्विटर पर पूछा गया था कि क्या स्थानीय स्तर पर कंपनी की कोई योजना है। इस सवाल के जवाब में एलन मस्क ने कहा है कि यदि कंपनी भारत में आयातित वाहनों के साथ सफल रहती है, तो बाद में मैन्युफैक्चरिंग प्लांट लगाने पर विचार कर सकती है। मस्क ने कहा कि फिलहाल भारत में आयात शुल्क दुनिया में सबसे ऊंचा है। उन्होंने उम्मीद जताई कि इलेक्ट्रिक वाहनों पर कम से कम अस्थायी रूप से शुल्क राहत मिलेगी।