अब ICICI बैंक के बदल रहे हैं नियम, 1 अगस्त से इन सुविधाओं के लिए देने होंगे ज्यादा पैसे

नई दिल्ली : एसबीआई यानी स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के बाद अब ICICI Bank भी अपने खाताधारकों को झटका देने जा रहा है। निजी क्षेत्र का यह बैंक 1 अगस्त से कई बड़े बदलाव करने वाला है। बैंक ने बताया कि बचत खाताधारकों के लिए नकद लेनदेन, एटीएम इंटरचेंज और चेकबुक शुल्क सीमा में बदलाव किया जाएगा। ICICI की ओर से अपने ग्राहकों को 4 फ्री ट्रांजेक्शन की सुविधा दी जाती है। अगर आप इसके ग्राहक हैं और इससे ज्यादा पैसे निकालेंगे तो आपको चार्ज देना होगा। बैंक की वेबसाइट के अनुसार, नि:शुल्क सीमा से अधिक लेनदेन पर शुल्क 150 रुपये प्रति लेनदेन होगा। ये सभी नियम 1 अगस्त से लागू हो जाएंगे। बता दें कुछ ऐसा ही बदलाव एसबीआई एक जुलाई से ही कर चुका है।

होम ब्रांच में नहीं लगेगा कोई शुल्क

अगस्त से ICICI Bank के ग्राहकों के लिए अपनी होम ब्रांच में मूल्य सीमा प्रति माह 1 लाख होगी।

इससे ज्यादा होने पर 5 रुपये प्रति 1,000 पर देना होगा।

गैर-घरेलू शाखा में प्रतिदिन 25,000 रुपये तक के नकद लेनदेन के लिए कोई शुल्क नहीं है।

25,000 से ऊपर पर रुपये 5 प्रति 1,000 रुपये

एटीएम इंटरचेंज ट्रांजेक्शन

बैंक की वेबसाइट के मुताबिक, एटीएम इंटरचेंज ट्रांजेक्शन पर भी चार्ज लगेगा।

एक महीने में 6 मेट्रो लोकेशन पर पहले 3 ट्रांजेक्शन फ्री होंगे।

एक महीने में अन्य सभी स्थानों पर पहले 5 लेनदेन मुफ्त होंगे।

20 रुपये प्रति वित्तीय लेनदेन और 8.50 रुपये प्रति गैर-वित्तीय लेनदेन।

चेक बुक्स पर कितना लगेगा चार्ज

25 चेक लीफ के लिए आपको कोई शुल्क नहीं देना होगा

इसके बाद में आपको 20 रुपये प्रति 10 पन्नों की अतिरिक्त चेकबुक के लिए देना होगा

कैलेंडर माह की पहली नकद निकासी के लिए कोई पैस नहीं लगेगा, इसके बाद शुल्क देना होगा।

कहीं भी नकद निकासी पर चार्ज

कैलेंडर माह में आपको पहली नकद निकासी के लिए कोई चार्ज नहीं देना होगा

इसके बाद में आपको 5 रुपये प्रति हजार रुपये के हिसाब से देने होंगे।

इसके अलावा आप ICICI Bank की शाखा में 5 रुपये प्रति हजार रुपये या उसका हिस्सा, न्यूनतम 150 के अधीन कैश रिसाइकलर मशीन पर एक कैलेंडर माह की पहली नकद जमा राशि के लिए कोई शुल्क नहीं लगेगा, उसके बाद शुल्क देना होगा। इसका अधिक ब्योरा बैंक की वेबसाइट से देखा जा सकता है।