हरियाणा: पंचायत चुनाव की चर्चाओं पर CM मनोहर लाल ने लगाया विराम

करनाल : हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा में अदालत के फैसले के बाद ही पंचायत चुनाव पर निर्णय लिया जाएगा। अगस्त में पंचायत चुनावों की अटकलों पर विराम लगाते हुए सीएम ने कहा कि कुछ विषय कोर्ट में विचाराधीन हैं, इस पर 22 अगस्त को सुनवाई होनी है। 

दिल्ली रवाना होने से पहले एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मुख्यमंत्री ने लगातार बढ़ रही पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर सफाई देते हुए कहा कि पेट्रो पदार्थों की कीमत इंटरनेशनल मार्केट में तय होती है, इसमें सरकारों का ज्याद हस्तक्षेप नहीं होता। उन्होंने स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में भी भविष्य में जनप्रतिनिधियों की भागीदारी सुनिश्चित करने की बात कही। किसानों के मुद्दे पर मुख्यमंत्री बोले कि किसानों को बातचीत करनी है या नहीं, यह उन्हें तय करना है, क्योंकि सशर्त बातचीत कभी सफल नहीं होती।  

सीएम ने पूर्व सीएम ओपी चौटाला की रिहाई के बाद राजनीतिक हलचल पर कहा कि ये लोकतंत्र है। इसमें कौन किसका सहयोग करता है, कौन कहां जाता है, क्या बोलता है, यह उसकी मर्जी होती है। हम इसमें कमेंट करने वाले कौन होते हैं। चौटाला इनेलो के बड़े नेता हैं। ऐलनाबाद सीट से उपचुनाव लड़ सकते हैं या नहीं, यह कानूनी विशेषज्ञ ही बताएंगे।

मुख्यमंत्री ने कांग्रेस में पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्डा गुट और प्रदेशाध्यक्ष कुमारी सैलजा के बीच चल रहे विवाद पर कहा कि यह सिलसिला पुराना चला आ रहा है। यह कोई नई बात नहीं है। पहले भी वहां परिवार की राजनीति चलती थी।