कांकेर में तैनात BSF जवान ने गोली मारकर की खुदकुशी

कांकेर : छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित कांकेर में तैनात सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवान ने कथित तौर पर खुद को गोली मारकर खुदकुशी कर ली। बीएसएफ के 81 बटालियन के कांस्टेबल लक्ष्मण एन जी (30) ने करपाल गांव के तहत कोडेकुर्से थाना क्षेत्र स्थित अपने यूनिट कैम्प में मंगलवार की सुबह खुदकुशी की।

फायरिंग की आवाज सुनकर उसके साथी घटनास्थल पर पहुंचे और उसे प्राथमिक चिकित्सा केंद्र ले गए, जहां से उसे हेलिकॉप्टर से रायपुर स्थित एम्स ले जाया गया। मंगलवार की रात गंभीर हालत में उसकी मौत हो गई।

मृतक कर्नाटक का रहने वाला था और हाल ही में महीने भर की छुट्टी के बाद 7 जुलाई को काम पर लौटा था। उसके पास से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है। पुलिस फिलहाल मामले की जांच कर रही है। 

बता दें इससे पहले भी बीएसएफ जवानों के खुद को गोली मारकर खुदकुशी करने की घटनाएं सामने आई हैं। दो महीने पहले भी झारखंड के हजारीबाग में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के एक जवान ने अस्पताल में कथित तौर पर आत्महत्या कर ली थी।

पुलिस ने बताया था कि मृतक जवान की पहचान 24 वर्षीय मृणाल काकोती के रूप में की गई थी। मृणाल एक मई को यहां बीएसएफ के प्रशिक्षण केंद्र और स्कूल में नियुक्त हुए थे। मृणाल को बीएसएफ अस्पताल में मृत पाया गया था।

हजारीबाग मुफ्फसिल पुलिस स्टेशन के प्रभारी बाजरन महतो ने बताया कि करीब एक सप्ताह पहले बीमार पड़ने के बाद मृणाल को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। मृणाल को उनके बिस्तर के पास लटका हुआ पाया गया। घटनास्थल से किसी प्रकार का कोई पत्र बरामद नहीं हुआ था।