परेशान लोगों के लिए राहत भरी खबर, नहीं हुआ पेट्रोल और डीजल की कीमतों इजाफा

नई दिल्ली : तेल की लगातार बढ़ रही कीमतों से परेशान लोगों के लिए आज राहत भरी खबर है। तेल कंपनियों ने शनिवार को पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कोई इजाफा नहीं किया है। इंडियन ऑयल के अनुसार आज दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 99.16 रुपये प्रति लीटर के अब तक के उच्चतम स्तर पर स्थिर रही। शुक्रवार को पेट्रोल 35 पैसे महँगा हुआ था। डीजल लगातार चौथे दिन 89.18 रुपये प्रति लीटर पर अपरिवर्तित रहा।

पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने का मौजूदा सिलसिला 4 मई को शुरू हुआ था। दिल्ली में मई और जून में पेट्रोल 8.41 रुपये और डीजल 8.45 रुपये महँगा हुआ था। देश के दूसरे शहरों में भी दोनों जीवाश्म ईंधनों के दाम आज स्थिर रहे। मुंबई में पेट्रोल 105.24 रुपये और डीजल 96.72 रुपये प्रति लीटर पर टिका रहा। चेन्नई में 100.13 रुपये और डीजल 93.72 रुपये प्रति लीटर के भाव बिका। कोलकाता में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 99.04 रुपये और डीजल की कीमत 92.03 रुपये रही।

देखें देश के प्रमुख शहरों में आज किस भाव पर बिक रहा पेट्रोल और डीजल...

शहर का नाम पेट्रोल रुपये/लीटर डीजल रुपये/लीटर

श्रीगंगानगर 110.4                     102.42

अनूपपुर         110.01                     100.32

रीवा                 109.65                     99.98

इंदौर                  107.51                     98.02

भोपाल           107.43                     97.93

जयपुर            105.91                     98.29

मुंबई            105.24                     96.72

पुणे                    104.82                     94.83

बेंगलुरु            102.48                     94.54

पटना            101.21                    94.52

चेन्नई            100.13                    93.72

दिल्ली            99.16                    89.18

कोलकाता           99.04                   92.03

आगरा            96.01                   89.28

लखनऊ            96.31                    89.59

चंडीगढ़            95.36                    88.81

रांची                     94.62                    94.12

पेट्रोल व डीजल के दाम में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन और अन्य चीजें जोड़ने के बाद इसका दाम लगभग दोगुना हो जाता है। अगर केंद्र सरकार की एक्साइज ड्यूटी और राज्य सरकारों का वैट हटा दें तो डीजल और पेट्रोल का रेट लगभग 27 रुपये लीटर रहता, लेकिन चाहे केंद्र हो या राज्य सरकार, दोनों किसी भी कीमत पर टैक्स नहीं हटा सकती। क्योंकि राजस्व का एक बड़ा हिस्सा यहीं से आता है। इस पैसे से विकास होता है।

दरअसल विदेशी मुद्रा दरों के साथ अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड की कीमत के आधार पर रोज पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बदलाव होता है। ऑयल मार्केटिंग कंपनियां कीमतों की समीक्षा के बाद रोज़ाना पेट्रोल और डीजल के रेट तय करती हैं। इंडियन ऑयल , भारत पेट्रोलियम और हिंदुस्तान पेट्रोलियम रोज़ाना सुबह 6 बजे पेट्रोल और डीजल की दरों में संशोधन कर जारी करती हैं।