लालू यादव के बेटे तेज प्रताप की अचानक बिगड़ी तबीयत, मिलने पहुंचे तेजस्वी

पटना : लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव की तबीयत अचानक बिगड़ गई है, उन्हें बुखार आया है। तेज प्रताप के सरकारी आवास पर उनके छोटे भाई तेजस्वी यादव उनसे मिलने पहुंचे। यहां डॉक्टरों की टीम को भी बुलाया गया। हाल ही में तेज प्रताप और तेजस्वी ने स्पुतनिक वैक्सीन लगवाई थी।

तेज प्रताप को देखने पहुंचे डॉ. एस के सिन्हा ने कहा, 'उन्हें शरीर में हल्का दर्द हो रहा है और बुखार हो रहा है। कुछ दिन पहले उन्होंने वैक्सीन ली थी। उन्हें सांस लेने में कोई दिक्कत नहीं है।'

तेज प्रताप यादव का डॉक्टर घर में इलाज कर रहे हैं। अगर कोई इमरजेंसी होती है तो उन्हें अस्पताल ले जाने के लिए एहतियातन एंबुलेंस को भी बुला लिया गया है। फिलहाल तेज प्रताप यादव की हालत ठीक है और वह खतरे से बाहर हैं। तेज प्रताप के साथ ही तेजस्वी भी घर पर मौजूद हैं।

जानकारी के मुताबिक, 30 जून को तेजस्वी और उनके भाई तेज प्रताप ने पटना के मेदांता अस्पताल में स्पूतनिक वैक्सीन की पहली डोज ली थी। वैक्सीन लेने के बाद तेजस्वी यादव ने कहा था कि कुछ लोग मेरे वैक्सीन न लेने पर सवाल खड़ा कर रहे थे, जिनको बोलना है वो तो बोलते रहेंगे। लेकिन मैंने ये तो नहीं कहा था कि वैक्सीन नहीं लूंगा, मैंने कहा था कि समय आने पर ले लूंगा।

तेजस्वी ने कहा कि हम तो लगातार लोगों से वैक्सीन लेने की अपील कर रहे हैं और हमारे नेताओं ने भी वैक्सीन ली है। वैक्सीन के अलावा कोरोना का कोई दूसरा इलाज नहीं है। हमको तो जनता के बीच रहना है इसलिए वैक्सीन ले ली नहीं तो कल को कहेंगे कि हम कोरोना फैला रहे हैं।

इससे पहले सोमवार को आरजेडी ने अपना 25वां स्थापना दिवस मनाया जिसको लेकर एक कार्यक्रम का आयोजन रखा गया था। इस कार्यक्रम में लालू यादव समेत तेजस्वी और तेज प्रताप यादव भी मौजूद रहे। इस दौरान तेज प्रताप यादव ने मंच पर अपने विचार भी व्यक्त किए।

तेज प्रताप ने कहा कि जब मैं बोलता हूं तो कुछ लोग हंसते हैं, जब पिताजी बोलते थे तब भी विरोधी लोग ऐसा ही करते थे। बहुत सारे लोग तरह-तरह की खराब बातें करते हैं, लेकिन मेरे पीछे कोई क्या बोल रहा है मैं उसपर ध्यान नहीं देता। मैं अपने दिल की बात करता हूं। तेजस्वी यादव को तो ज्यादा वक्त नहीं मिलता है, लेकिन मैं तो हमेशा पार्टी कार्यालय आता रहता हूं।