जिंदगी के रंग

जिंदगी में रंगों का बहुत महत्व है

इनके बिना जिंदगी नीरस है

याद आती है भूल

जब माटी के खिलौनों में नहीं भरे रंग

क्या जिंदगी के रंग भी वही होते हैं

जो जिंदगी को हसीन बना देते हैं

ये रंग एक पहचान देते हैं

जो बेजान को जान देते हैं

इंद्रधनुष है सात रंग समेटे

तो सूरज है लाल रंग की गेंद

हरा रंग समृद्धि का प्रतीक है

सफेद रंग शांति का प्रतीक है

तो केसरिया कहता बलिदान दो

तीन रंग मिल कहें देश का मान रखो

हर रंग कुछ न कुछ कहता है

चाहे क्यों न वह चुप रहता है

इसके अलावा भी और रंग हैँ

जो आंखों से दिखाई नहीं देते

ईमानदारी देश भक्ति मातृ भक्ति

साहस मेहनत बहादुरी और प्रेम

यह तो वही रंग है जो कि

जिंदगी में भरने जरूरी हैँ

ये रंग रंगीन नहीं चरित्र बनाते हैं

मुश्किल को आसान बनाते हैं

जो अक्सर देर से समझ में आते हैं

रंग गुणकारी हैं हितकारी हैं

नीरस जिंदगी की औषधि हैं

जिंदगी में रंगों का बहुत महत्व है

इनके बिना जिंदगी नीरस है


पूनम पाठक बदायूँ