हरियाणा : कांग्रेस में उठने लगे बगावत के सुर, गृहमंत्री अनिल विज ने तंज कसा, कहा-‘क से कांग्रेस, क से कलह’

हरियाणा : कांग्रेस में इन दिनों सब कुछ सही नहीं चल रहा। पंजाब कांग्रेस में कलह पर कुछ सहमति बनने के आसार दिखे ही थे कि हरियाणा में पार्टी में बगावत के सुर उठने लगे। अब पार्टी की इस अंदरूनी खींचातानी पर गृहमंत्री अनिल विज ने तंज कसा है। विज ने कहा कि ‘क से कांग्रेस, क से कलह’। विज ने कहा कि इनकी आपसी खींचतान हर राज्य में चल रही है और अब कांग्रेस टूटने की कगार पर है।

विज ने कहा कि बढ़ती महंगाई को लेकर किसान रोष प्रदर्शन कर रहे हैं। यह प्रजातांत्रिक देश है, सबको आवाज उठाने का हक है। हमने कभी इस पर एतराज नहीं किया। वहीं कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला के मोदी सरकार के कैबिनेट विस्तार के बयान पर कटाक्ष करते हुए विज ने कहा कि सुरजेवाला नकारात्मकता से ग्रस्त हैं। कैबिनेट का विस्तार करना प्रधानमंत्री का विशेषाधिकार है। इनको हर बात पर कमेंट करने की बीमारी है। इन्हें मनोवैज्ञानिक से अपना इलाज करवाना चाहिए।

किसान आंदोलन पर विज ने कहा कि किसान आंदोलन करें, हमें इससे कोई ऐतराज नहीं है, लेकिन बाकी पार्टियां यदि अपना प्रोग्राम कर रही हैं तो इसे रोकना ठीक नहीं है। बीजेपी ने अपने प्रोग्राम की घोषणा की है और वह करेगी।

इससे पहले हरियाणा कांग्रेस के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष और अपना भारत मोर्चा के संयोजक डॉ. अशोक तंवर ने कहा कि गुटबाजी कांग्रेस के खून में है। पहले खुद उनको प्रदेशाध्यक्ष पद से हटाने के लिए पांच साल तक जोर आजमाइश चली, अब कुमारी सैलजा के साथ ऐसा हो रहा है। तंवर ने कहा कि हालांकि, सैलजा ने कभी मेरा साथ नहीं दिया फिर भी जो उनके साथ हो रहा है वो गलत है। 

कांग्रेस के अनुभव के आधार पर तंवर ने कहा कि वह दावा करते हैं कि अभी सैलजा पद से नहीं हटाईं जाएंगी। चुनाव से पहले जरूर कुछ हो सकता है। गुरुवार को एमएलए हॉस्टल में आयोजित प्रेसवार्ता में तंवर ने कांग्रेस समेत भाजपा पर जमकर हमला बोला। अगर राहुल फिर से अध्यक्ष बनेंगे तो क्या आप कांग्रेस में जाएंगे के सवाल पर तंवर ने कहा कि वह बड़ी मुश्किल से नरक से निकला है, अभी स्वर्ग में हूं।