ईद उल अजहा की तैयारियों के सम्बन्ध में ईदगाह में मीटिंग

लखनऊ। ईदगाह लखनऊ में इस्लामिक सेन्टर आफ इण्डिया के तत्वाधान में ईदुल अज्हा की तैय्यारियों के सिलसिले में एक अहम बैठक ईदगाह कमेटी और जिला प्रशासन की हुई जिस में उलामाक्राम और सम्मानित शहरियों ने शिरकत की। इमाम ईदगाह मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली चेयरमैन इस्लामिक सेन्टर आफ इण्डिया ने मीटिंग को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस साल बकरईद 21 जुलाई 2021 को होगी। मुसलमानों के दो सबसे बड़े त्यौहार हैं। एक ईद उल फित्र और दूसरा ईद उज अजहा। इसलिए ईद उल अजहा के अवसर पर जिला प्रशासन व नगर निगम की जिम्मेदारी है कि पूरे प्रदेश की ईदगाहों और तमाम मस्जिदों के आस पास उचित सफाई कराऐ और बिजली व पानी की सप्लाई यकीनी बनाए। उन्होंने कहा कि ईद-उल-अजहा के मुबारक दिनों में शहर का अमन व अमान और सलामती बनाये रखने के लिए उचित व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि कुर्बानी के जानवरों की आने जाने में किसी प्रकार की रूकावट न लगाई जाए। कुर्बानी जो कि 21, 22 और 23 जुलाई को की जायेगी, इन दिनों में भी सफाई के विशेष प्रबन्ध सुनिश्चित किये जायें। मौलाना ने मुसलमानों से यह भी अपील की कि कुर्बानी की फोटो और वीडियो सोशल मीडिया पर न डालें।

मौलाना फरंगी महली ने कहा कि ईदुल-अज्हा के मौके पर अवाम को ज्यादा से ज्यादा सहूलतें पहुँचाई जायें और ईदगाह मैदान और उसके आस पास में सफाई सुथ्राई पर खघसघ् ध्यान दिया जाऐ। आवारा जानवरों को बन्द रखा जाऐ और पानी के टैंकर का इन्तिजाम किया जाऐ और उसी के साथ साथ एम्बुलेंस की भी सुहूलत मुहय्या करायी जाये। मौलाना फरंगी महली ने कहा कि ईद उल अजहा में हर साहिब-ए-निसाब मुसलमान पर कुर्बानी करना वाजिब है। उन्होने अपील की कि सड़क, गली या खुले में कुर्बानी न करें बल्कि मदरसों में कुर्बानी का एहतिमाम करें। मीटिंग में ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर पियूष मौर्या ने इन तमाम बातों पर अमल करने का वादा किया। उन्होंने कहा कि हर वर्ष से अच्छा इस वर्ष प्रबन्ध कराया जायेगा। उन्होंने कहा कि हम इस सम्बन्ध में पूरी तरह चैकस है। हम अपनी ओर से कोई कमी नही छोड़ेंगें। इस लिए हम इस सिलसिले में शहरियों से भरपुर सहयोग की अपील करते हैं। 

उन्होने कहा कि कोई भी संदिग्ध व्यक्ति या वस्तु को देख कर तुरन्त प्रशासन को सूचित किया जाये। ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर ने कहा कि कोविड-19 को देखते हुए इस बीमारी को काबू करने का जो सबसे उचित साधन है वह एहतियाती उपायांे पर अमल करना है। उन्होने कहा कि जिस तरह अवाम ने गत त्यौहारों पर सरकार के आदेश पर अमल किया है। इसी तरह  ईद उल अजहा में भी अमल करें और मस्जिदों में उतने ही नमाजी जायें जितनी की अनुमति है। उन्होने कहा कि ईद उल अजहा में भी सरकारी गाइड लाइन पर हम सबको अमल करना है। और किसी भी धार्मिक स्थल में एक समय में 50 से अधिक लोगों को जमा नही होना और वहाॅ पर भी मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग, सेनेटाइजर का एहतिमाम करना है। 

डी0 सी0 पी0 वेस्ट सोमन वर्मा ने यकीन दिलाया कि इस त्यौहार से सम्बन्धित सुरक्षा के तमाम इंतिजाम पुलिस कमश्निरेट के सौजन्य से अच्छे से अच्छे किये जायेेंगे। किसी को भी कानून के साथ खिलवाड़ करने का अवसर नही दिया जायेगा। इस सिलसिले में हम को सामाज के हर वर्ग का पूरा पूरा सहयोग चाहिए। उन्होने कहा कि त्यौहारों के अवसर पर भी किसी को भी जबानी या लिखित इलेक्ट्रानिक या सोशल मीडिया के माध्यम से भी अफवाह नही फैलाने दी जायेगी और न ही कोई एैसा धार्मिक शब्द या हरकत की इजाजत होगी जिससे कि किसी दूसरे धर्म के लोगों के धार्मिक जज्बात को ठेस पहंुचे। 

मीटिंग में ए0डी0सी0पी0 वेस्ट राजेश श्रीवास्तव ने कहा कि ईद उल अजहा के अवसर पर पुलिस की उचित व्यवस्था रहेगी और ईदगाह के चारों तरफ और पूरे शहर में पुलिस डियूटी की व्यवस्था की जा रही है। उन्होने नागरिकों से अपील की कि अगर उनको किसी प्रकार की समस्या हो तो वह हम लोगों से सम्पर्क कर सकते हैं। उन्होने कहा कि ईद उल अजहा से पूर्व इबादतगाहों के बाहर कोविड-19 के प्रोटोकाॅल से सम्बन्धित हिदायतों को लिखकर लगा दी जायें जिससे कि अवाम के अंदर इस सम्बन्ध में जागरूकता पैदा हों। अपर नगर आयुक्त अनिल कुमार ने कहा कि ईद उल अजहा के सिलसिले में नगर निगम की तरफ से साफाई सुत्थराई और अन्य तैय्यारियाॅ शुरू हो चुकी हैं और समय से पहले तमाम काम पूरे कर लिए जायेंगे। उन्होने कहा कि कुर्बानी के तीनों दिन सफाई पर विशेष ध्यान दिया जयेगा। मीटिंग में सिटी मजिस्ट्रेट सशी भूषण ने कहा कि आने वाले त्यौहारों के लिए अभी से पश्छिमी लखनऊ में हम लोगों ने तैय्यारियाॅ शुरू कर दी हैं। पूरी उम्मीद है कि बहुत अच्छे माहौल में सारे त्यौहार मनाये जायेगंे। 

चीफ वार्डेन सिविल डिफेन्स मि0 अमरनाथ मिश्रा ने कहा कि हम लोग सिविल डिफेन्स की मीटिंग करके आने वाले त्यौहारों के लिए अपनी टीम की ड्यूटी हर अहम् जगह पर लगायेंगे जिससे कि जिला प्रशासन, पुलिस कमिश्नरेट, के माध्यम अच्छा ताल मेल बना रहे और खुशी के वातावरण में त्यौहार मनाया जाये। मीटिंग को ए0सी0पी0 चैक, ए0सी0पी0 बाजार खाला, मौलाना मुहम्मद मुश्ताक, मौलाना मुहम्मद सुफयान निजामी रफीक अहमद और इमरान कुरैशी ने भी सम्बोधित किया। मीटिंग का संचालन मुहम्मद फारूक खाँ ने किया और मेहमानों का शुक्रिया मौलाना नईमुर्रहमान सिद्दीकी ने अदा किया और मेहमानों का स्वागत मुहम्मद कलीम खाॅ ने किया। मीटिंग में नगर आयुक्त, नगर निगम, जल संस्थान, सिविल डिफेन्स और हेल्थ डिपार्टमेन्ट के अधिकारियों ने शिरकत की।