यूपीपीएससी: स्टाफ नर्स के इन पदों पर भर्ती के लिए आवेदन शुरू

समूह ‘ख’ के इन अराजपत्रित पदों की संख्या परिस्थितियों एवं आवश्यकता के अनुसार घटाई या बढ़ाई जा सकती है। पद का वेतनमान रुपये 9300-34800 एवं ग्रेड पे रुपये 4600 (पुनरीक्षित वेतनमान - लेवल-7 पे मैट्रिक्स रुपये 44900 - 142400) निर्धारित है। इसके साथ ही आयोग ने विस्तृत विज्ञापन में स्टाफ नर्स (पुरुष)/महिला के पदों की शैक्षिक अर्हता और परीक्षा योजना के बारे में भी जानकारी दी है। 

स्वास्थ्य विभाग में डेढ़ माह में शुरू हुई चौथी भर्ती

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने चिकित्सा शिक्षा एवं स्वास्थ्य विभाग में डेढ़ माह के दौरान चौथी भर्ती प्रक्रिया शुरू की है। आयोग ने 28 मई को चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवा विभाग में 15 प्रकार के 3620 पदों का विज्ञापन जारी किया था, जिनमें सर्वाधिक 600 पद बाल रोग विशेषज्ञों के हैं। इसके बाद चार जून को चिकित्सा शिक्षा विभाग (एलोपैथी) में विभिन्न विशिष्टता वाले असिस्टेंट प्रोफेसर के सर्वाधिक 102 पदों और 25 जून को चिकित्सा शिक्षा विभाग (एलोपैथी) में असिस्टेंट प्रोफेसर के 128 पदों पर भर्ती के लिए आयोग ने विज्ञापन जारी किया था और अब स्वास्थ्य विभाग में स्टाफ नर्स के पदों पर चौथी भर्ती शुरू हो गई है।

परीक्षा योजना

परीक्षा दो घंटे की होगी और पूर्णांक 85 अंक होंगे। कुल 170 प्रश्न पूछे जाएंगे और सभी प्रश्न वस्तुनिष्ठ प्रकार के होंगे। इनमें सामान्य अध्ययन के 30, सामान्य हिंदी के 20 और मुख्य विषय नर्सिंग के 120 सवाल होंगे। 

परीक्षा पाठ्यक्रम

सामान्य ज्ञान - भारत का इतिहास एवं भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन, भारत एवं विश्व का भूगोल, भारत एवं विश्व का भौतिक, सामाजिक एवं आर्थिक भूगोल, भारतीय राजनीति एवं शासन, संविधान, राजनीति व्यवस्था, पंचायती राज, लोक नीति एवं अधिकारिक मुद्दे आदि, भारतीय अर्थव्यवस्था एवं सामाजिक विकास, राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय महत्व की सामयिक घटनाएं, भारतीय कृषि, सामान्य विज्ञान, प्रारंभिक गणित हाईस्कूल स्तर तक की।

सामान्य हिंदी - विलोम, वाक्य एवं वर्तनी शुद्धि, अनेक शब्दों के एक शब्द, तत्सम एवं तद्भव शब्द, विशेष्य और विशेषण, पर्यायवाची शब्द।

नर्सिंग - एनाटॉमी और फिजियोलॉजी, नर्सिंग की बुनियादी बातें, प्राथमिक चिकित्सा, आपात स्थिति, मेडिकल सर्जिकल नर्सिंग, संचारी रोग, मनोरोग नर्सिंग, सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग, मिडवाइफरी एंड गाइनकोलॉजिकल नर्सिंग, बाल नर्सिंग, व्यावसायिक रुझान एवं समायोजन- परिभाषा और नर्सिंग पेशे के मानदंड, माइक्रोबायोलॉजी, मनोविज्ञान, समाजशास्त्र, व्यक्तिगत स्वच्छता, पर्यावरण स्वच्छता, नर्सिंग में कंप्यूटर।