कामवाली नहीं आई

 

झाड़ू नें ली अंगड़ाई क्यों कि

 आज कामवाली नहीं आई।

पोछे नें भी आंख चुराई क्यों कि

आज कामवाली नहीं आई।


कपड़ों नें सुस्ती फैलाई क्यों कि

आज कामवाली नहीं आई। 

बरतन नें भी भीड़ मचाई क्यों कि

 आज कामवाली नहीं आई। 


मिस्टर नें कर दी फरमाईश क्यों कि

आज कामवाली नहीं आई। 

बच्चों की कर दी पिटाई क्यों कि

  आज कामवाली नहीं आई। 


मिस्टर नें कर ली लड़ाई क्यों कि

आज कामवाली नहीं आई। 

बरतन संग बच्चों की भी कर दी धुलाई 

क्यों कि आज कामवाली नहीं आई। 


मिस्टर कर रहे हैं सफाई क्यों कि आज 

कामवाली नहीं आई। बरतन धोने के लिये 

गरम पानी करके दिया है। बस इतनी है मेरी

चतुराई क्यों कि आज कामवाली नहीं आई ।


रमा निगम वरिष्ठ साहित्यकार 

ramamedia15@gmail.com